केरल: मंदिर के अध्यक्ष-सचिव का आत्मसमर्पण

इमेज कॉपीरइट Reuters

केरल के एक मंदिर में आतिशबाज़ी के दौरान पटाख़ों में लगी आग से हुई मौतों के मामले में मंदिर प्रशासन के अध्यक्ष और महासचिव ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है.

पारावुर के पुत्तिंगल मंदिर में रविवार तड़के हुई इस घटना में 108 लोगों की मौत हो गई थी और क़रीब 400 लोग घायल हुए थे.

पुलिस के मुताबिक़ मंदिर प्रशासन के अध्यक्ष पीएस जयालाल और सचिव कृष्णाकुट्टी पिल्लई ने कोल्लम पुलिस की क्राइम ब्रांच के सामने सोमवार देर रात आत्मसमर्पण कर दिया.

इनके अलावा मंदिर समिति के सदस्य प्रसाद, सोमासुंदरन पिल्लई और रविंद्रन पिल्लई ने भी पुलिस के सामने आत्मसर्पण कर दिया है.

इस मामले में पुलिस पहले ही पांच लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.

इमेज कॉपीरइट AP

कोल्‍लम की ज़िला मजिस्‍ट्रेट पैनामोल के मुताबिक़ मंदिर में आतिशबाज़ी के लिए इजाज़त नहीं ली गई थी. उन्होंने हादसे का कारण पुलिस की लापरवाही भी बताया था.

उन्होंने कहा कि जब उन्होंने आतिशबाज़ी की अनुमति नहीं दी थी तब पुलिस ने इसकी अनुमति कैसे दे दी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार