पीपी पांडे गुजरात पुलिस के डीजीपी

स्ट्रेचर में लादकर सीबीआई की विशेष अदालत में पेशी के लिए ले जाए जाते पीपी पांडे. इमेज कॉपीरइट AFP

कथित इशरतजहां मुठभेड़ मामले के अभियुक्त वरिष्ठ आईपीएस पीपी पांडे को गुजरात पुलिस का प्रभारी महानिदेशक बनाया गया है.

वह फ़िलहाल ज़मानत पर जेल से बाहर हैं.

उनकी नियुक्ति पीसी ठाकुर के दिल्ली तबादले के बाद की गई है. पांडे डीजीपी रैंक के आईपीएस हैं.

नियमित डीजीपी की नियुक्ति तक पीपी पांडे डीजीपी के पास यह अतिरिक्त कार्यभार रहेगा.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ यह जानकारी शनिवार को स्टेट कंट्रोल रूम के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम न प्रकाशित करने की शर्त पर दी.

पीपी पांडे इस समय राज्य के एंटी करप्शन ब्यूरो के निदेशक हैं.

इशरत जहां मामले में ज़मानत मिलने के बाद पिछले साल उनकी सेवाएं बहाल कर दी गई थीं.

गृह मंत्रालय ने एक निर्देश में पीसी ठाकुर के दिल्ली में नागरिक सुरक्षा और होमगार्ड का महानिदेशक पर नियुक्ति की सूचना दी थी.

ठाकुर साल 2013 से गुजरात के डीजीपी पद पर तैनात थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार