आमिर ने सूखा प्रभावित गांव गोद नहीं लिए

आमिर ख़ान इमेज कॉपीरइट AFP

अभिनेता आमिर ख़ान का कहना है कि उन्होंने सूखा प्रभावित किसी गांव को गोद नहीं लिया है.

मीडिया में ख़बरें आ रहीं थीं कि आमिर ने सूखे से प्रभावित दो गांवों को गोद लेने का फ़ैसला किया है, लेकिन आमिर ख़ान के ऑफ़िस ने हमारी सहयोगी मधु पाल को भेजे संदेश में कहा कि कि मीडिया में आ रही ये ख़बरें सही नहीं हैं.

संदेश में आगे लिखा है, "आमिर ख़ान अपने एनजीओ पानी फ़ाउंडेशन के साथ सूखे से प्रभावित गांवों की बेहतरी के लिए पहले से ही काम कर रहे हैं जो 120 गांवों के लिए कार्यरत है. इसके अलावा आमिर ने किसी नए गांव को गोद नहीं लिया है."

फ़रवरी में आमिर ख़ान, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र सिंह फड़नवीस के साथ एक मंच पर नज़र आए थे और तब आमिर खान को महाराष्ट्र सरकार ने 'जल संरक्षण' के काम में मदद का काम दिया था.

तब समझा गया था कि असहिष्णुता पर दिए आमिर के बयान के बाद भाजपा और आमिर के बीच पनपा तनाव ख़त्म हो गया है.

आमिर ख़ान ने बीते साल भी महाराष्ट्र सरकार को जल संरक्षण योजना के लिए 11 लाख़ रुपए का योगदान दिया था.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)