'तुम हेल्थ एम्बेसेडर बने तो डॉक्टर थे क्या'

फ़िल्म अभिनेता सलमान ख़ान इमेज कॉपीरइट salman khan twitter page
Image caption अपनी अगली फ़िल्म 'सुल्तान' में सलमान ख़ान एक पहलवान का किरदार निभा रहे हैं.

फ़िल्म अभिनेता सलमान ख़ान को रियो ओलंपिक का गुडविल एम्बेसेडर बनाए जाने पर पहलवान योगेश्वर दत्त ने सवाल क्या उठाए, सोशल मीडिया वेबसाइट ट्विटर पर नई बहस ही छिड़ गई.

बहुत से लोगों ने योगेश्वर की राय का समर्थन किया है तो कुछ ने उनकी मंशा पर ही सवाल उठाए हैं.

एक ट्वीट में योगेश्वर दत्त ने कहा था, "पीटी ऊषा, मिल्खा सिंह जैसे बड़े स्पोर्ट्स स्टार हैं जिन्होंने कठिन समय में देश के लिए मेहनत की. खेल के क्षेत्र में इस एम्बेसेडर ने क्या किया?"

इस पर सलमान ख़ान के एक फ़ैन (@RiturajKathait) ने योगेश्वर से पूछा, "आपको 2012 में हरियाणा का हेल्थ एम्बेसेडर बनाया गया था. आप डॉक्टर थे क्या? आपने एड्स की दवा विकसित की थी क्या?"

इमेज कॉपीरइट Twitter

इस ट्वीट के जवाब में योगेश्वर ने लिखा, "खिलाड़ी हूँ, इसलिए बनाया था. मैं दारू नहीं पीता, बीड़ी सिगरेट नहीं पीता, अब बताओ अलंपिक के लिये सलमान क्यों?"

योगेश्वर दत्त फ़ैन (‏@SarvagyaBengani) के नाम से चल रहे एक और ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया गया, "योगी भाई एक कांस्य क्या जीत लिया इतना फुदक रहे हो. फ़ेडरेशन से पैसा नहीं मिलता तो क्या हुआ. सलमान भाई का दिल बड़ा है जा कर मांग ले."

इसके जवाब में योगेश्वर दत्त ने लिखा, "हा हा, हा हा, देख तो लें बात किस बारे में हो रही है. भीख मांगने की आदत नहीं है. भगवान ने बहुत दे रखा है."

सलमान ख़ान के एक और फ़ैन सीमांत गौरव (‏@beingsimant) ने लिखा, "आप अपने खेल पर ध्यान दीजिए और देश के लिए मेडल जीतिए, जैसा कि आपने पहले किया है. सलमान ख़ान को एम्बेसेडर बनाए जाने से भारत की मदद होगी और प्रोत्साहन मिलेगा."

इमेज कॉपीरइट Other
Image caption योगेश्वर दत्त ने अपने ट्वीट में पूछा था कि गुडविल एम्बेसेडर का क्या काम होता है.

इस पर योगेश्वर ने जवाब दिया, "आपके कहने का मतलब है कि किसी को एम्बेसेडर बनाओ तो मदद करेगा नहीं तो नहीं..."

सलमान ख़ान के कई फ़ैंस को लगता है कि योगेश्वर ने अपनी ओर ध्यान खींचने के लिए सलमान ख़ान को गुडविल एम्बेसेडर बनाए जाने पर सवाल उठाए हैं.

साहिल (@Here4Salman) ने लिखा, "अटेंशन की भीख मांग रहा है सलमान के नाम पर दत्त योगी. आज से पहले तुझे कितने लोग जानते थे? कभी ट्रेंड लिस्ट में अपना नाम देखा?"

वहीं बहुत से लोगों ने योगेश्वर का समर्थन करते हुए पूछा है कि आख़िरकार सलमान को गुडविल एम्बेसेडर क्यों बनाया गया है.

इमेज कॉपीरइट REUTERS
Image caption पहलवान योगेश्वर दत्त ने ओलंपिक में भारत के लिए कांस्य पदक जीता है.

पीएस रंधावा (@pskandhala) ने लिखा, "शाबाश योगेश्वर दत्त. आपने खेल जगत को गौरवान्वित किया है और झूठे हीरो को उनकी सही जगह बताई है."

सुमित सूरी (@_SumitSuri) ने लिखा, "योगेश्वर ने सही सवाल किया है. गुडविल एम्बेसेडर क्या होता है? लोगों को पागल मत बनाओ. क्या सलमान ख़ान ने खेल के लिए कभी कुछ किया है...नहीं."

एक ट्वीट के जवाब में योगेश्वर ने ये भी लिखा की वो निराश नहीं हैं. उन्होंने लिखा, "निराश वो लोग हैं जिनको सच बात हज़म नहीं हो रही, उनको पता नहीं मेने क्या बोला ओर क्यूँ बोला."

कुछ लोगों ने योगेश्वर को विवादों से दूर रहने की सलाह भी दी. रिशभ (‏@imrrishabh ) ने लिखा, "भाई तू कांस्य भी ना जीत पाएगा अगर नेतागिरी पर ध्यान देगा. खेल पर ध्यान दे."

चौधरी डी ट्रंप (‏@sailorsmoon) ने लिखा, "भाई छोड़ो. हमें पदक चाहिए बस और वो तुम लाओगे, एम्बेसेडर नहीं. पड़के लगे रहो बस."

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार