'अकाउंट रोज़ देखते हैं, कालाधन वापस आया या नहीं'

कन्हैया कुमार इमेज कॉपीरइट AP

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने बिहार में मज़दूर दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखे हमले किए हैं और आरोप लगाए हैं.

इस मौके पर कन्हैया ने भाषण के दौरान उन्होंने कहा कि 'ज्यादा कन्हैया-कन्हैया न कहिए नहीं तो मोदी-मोदी जैसा लगने लगेगा.'

इमेज कॉपीरइट Reuters

उन्होंने इस प्रवृति से निकलने की बात कही और सामूहिक संघर्ष करने की सलाह दी.

कालेधन पर कन्हैया ने कहा कि चुनाव से पहले जो 15 लाख का वादा किया गया था, उसके मुताबिक वो अपने बैंक अकाउंट को रोज़ देख रहे हैं कि वो राशि आई या नहीं.

रोज़गार पर उन्होंने कहा की जो सरकार देश में दो लाख़ नौकरियां पैदा नहीं कर पा रही वो चनावी वादे के मुताबिक दो करोड़ कहां से पैदा करेगी.

इमेज कॉपीरइट EPA

कन्हैया ने कहा कि इस देश में संघर्ष छिड़ा है आज़ादी के सपूतों और अंग्रेजों के चापलूसों के बीच...

इस सभा में हंगामा भी हुआ जब दो लोगों ने कन्हैया को काले झंडे दिखाए. इस पर कन्हैया ने कहा, "इससे हम विचलित होने वाले नहीं हैं. गरीबी, जातिवाद, पितृसत्ता ने हज़ारों वर्षों से डिस्टर्ब कर रखा है अब उन तमाम समस्याओं को दूर कर देंगे."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार