राष्ट्रपति शासन रद्द करने वाले जज का तबादला

इमेज कॉपीरइट HIGH COURT OF UTTARAKHAND AT NAINITAL

उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन को रद्द करने का ऐतिहासिक फैसला देने वाले नैनीताल हाई कोर्ट के मुख्य न्यायधीश केएम जोसेफ का आंध्र प्रदेश तबादला हो गया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार वो हैदराबाद हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के तौर पर जस्टिस बी भोंसले का स्थान लेंगे जिन्हें मध्य प्रदेश हाई कोर्ट का मुख्य न्यायाधीश बनाया गया है.

समझिए उत्तराखंड की उठापटक को

जस्टिस जोसेफ ने जुलाई 2014 में नैनीताल हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश का कार्यभार संभाला था और उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन को लेकर उनका हालिया फैसला ख़ासा सुर्खियों में रहा.

उन्होंने राज्य में राष्ट्रपति शासन को रद्द करने के फैसले के साथ साथ राष्ट्रपति तक पर टिप्पणियां की थीं.

सुप्रीम कोर्ट ने नैनीताल हाई कोर्ट के फैसले पर फिलहाल रोक लगाई हुई है और इस बारे में अब 6 मई को सुनवाई होगी.

केंद्र सरकार नैनीताल हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंची है.

अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने सर्वोच्च अदालत को बताया कि केंद्र सरकार राज्य विधानसभा में शक्ति परीक्षण कराने के अदालत के फैसले पर गंभीरता से विचार कर रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार