उज्जैन में पंडाल गिरने से 7 की मौत, कई घायल

इमेज कॉपीरइट Shooreh Niyazi

उज्जैन में चल रहे सिंहस्थ कुंभ में भारी बारिश के दौरान पंडाल गिरने से मरने वालों की संख्या सात हो गई है. क़रीब 30 लोग ज़ख्मी हैं.

शहर में क्षिप्रा नदी के किनारे जारी सिंहस्थ मेले में भारी बारिश और तूफ़ानी हवाओं की वजह से कई पंडाल गिर गए हैं.

स्थानीय पत्रकार शूरेह नियाज़ी ने सिहंस्थ के प्रभारी मंत्री भूपेंद्र सिंह के हवाले से बताया है कि घायलों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

उज्जैन पुलिस का कहना है कि कम से कम 30 लोग ज़ख़्मी हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

पत्रकार प्रीति मान ने कहा है कि मूसलाधार बारिश और तूफ़ान के कारण कई जगहों पर पानी जमा है और सिंहस्थ कुंभ अस्त-व्यस्त हो गया है.

इससे पंचकोशी की यात्रा भी प्रभावित हुई है. कुछ क्षेत्रों में ओले गिरने की भी सूचना है. कई संतों के पंडालों में पानी घुसने से भी ख़ासा नुकसान हुआ है.

उज्जैन में कुंभ मेला 12 साल बाद आयोजित होता है जिसमें लोग पवित्र क्षिप्रा नदी में स्नानकरते हैं.

शुक्रवार को होने वाले स्नान की वजह से शहर में लाखों लोगों की भीड़ है.

प्रशासन चिंतित है कि तूफ़ान के बाद जिस तरह से तंबू और पंडाल धवस्त हो गए हैं, तो लोगों के रात में रहने की व्यवस्था कैसे की जाए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार