देश को ग़लत रास्ते पर नहीं जाने दूंगा: मोदी

मोदी इमेज कॉपीरइट Dasarath Deka

अपनी सरकार के दो साल पूरे होने के मौके पर मनाए जा रहे विकास पर्व की कड़ी में प्रधानमंत्री मोदी ने कर्नाटक के देवनगेरे ज़िले में एक रैली को संबोधित किया.

उन्होंने कहा, ''केन्द्र में आने के बाद पहले सप्ताह में जब मैंने अपना दफ़्तर और संसद भी पूरा नहीं देखा था तब से मुझसे हिसाब मांगा जाता था.''

मोदी ने कहा ,''मुझसे हिसाब इसलिए मांगा जाता था कि इस देश में कुछ लोग हैं जो लोकतंत्र की बात तो करते हैं लेकिन लोगों के द्वारा चुनी हुई सरकार को स्वीकार करने के लिए उनका मन तैयार नहीं है.

यहां केन्द्र सरकार की उज्जवला योजना का उद्घाटन करने पहुंचे मोदी ने कहा कि दो साल में उनकी सरकार ने आम लोगों की भलाई के लिए कई काम किया है.

उन्होंने कहा , ''मोदी बड़े- बड़े काम नहीं करता है, पहले वाली सरकारों ने बड़े-बड़े काम किए और बड़े-बड़े फ़ायदे उठाए, क्या मुझे उस ग़लत रास्ते पर जाना चाहिए? लोग मुझे इतना प्यार देते हैं कि मुझे उस पाप वाले रास्ते पर जाने की ज़रूरत नहीं है. एकाध काम कम होगा लेकिन देश को ग़लत रास्ते पर नहीं जाने दूंगा.''

शनिवार को केन्द्र सरकार के कामों के लेखा-जोखा पेश करने के लिए दिल्ली में नई सुबह नाम से एक भव्य कार्यक्रम किया गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार