सऊदी गठबंधन को यूएन ब्लैकलिस्ट से हटाया

इमेज कॉपीरइट SALEH ALOBEIDI AFP

यमन में हूथी बाग़ियों से लड़ रहे सऊदी गठबंधन को संयुक्त राष्ट्र की उन देशों और समूहों की सूची से हटा लिया गया है जो संकटग्रस्त क्षेत्रों में बच्चों के अधिकारों का उल्लंघन करते हैं.

हाल में संयुक्त राष्ट्र ने एक रिपोर्ट जारी की थी जिसके मुताबिक़ यमन में पिछले साल सऊदी गठबंधन 60 फ़ीसदी बच्चों की मौत के लिए ज़िम्मेदार था.

सऊदी अरब ने इस रिपोर्ट पर तीखा विरोध जताया था. उसने कहा कि रिपोर्ट में आंकड़ों को 'बढ़ा चढ़ा कर' पेश किया गया है.

संयुक्त राष्ट्र ने अब कहा है कि वो इस रिपोर्ट में दर्ज मामलों की समीक्षा के लिए सऊदी अरब के साथ मिल कर काम करेगा.

इमेज कॉपीरइट AFP

लेकिन संयुक्त राष्ट्र में सऊदी अरब के राजदूत ने कहा है कि ब्लैकलिस्ट से सऊदी गठबंधन को हटाने का फ़ैसला 'अंतिम' है.

इस गठबंदन में सऊदी अरब के अलावा नौ अन्य अरब और मुलसमान देश हैं जिन्हें अमरीका और ब्रिटेन भी समर्थन दे रहे हैं.

जनवरी 2015 में हूथी बाग़ियों ने यमन में सरकार को बेदख़ल कर राजधानी सना पर क़ब्ज़ा कर लिया था, उसके दो महीने बाद इस गठबंधन ने अपनी कार्रवाई शुरू की.

तब से अब तक वहां 6,200 लोग मारे गए हैं जिनमें आधे से ज़्यादा आम लोग हैं. संयुक्त राष्ट्र के अनुसार इस संकट के कारण 28 लाख लोग बेघर भी हो गए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार