बीबीसी इंडिया बोल... लाइव टेक्स्ट

IST 2028 आज के कार्यक्रम में इतना ही. आप सभी को बहुत बहुत धन्यवाद.

IST 2027 राहुल कहते हैं कि हम पड़ोसी से भी चीनी-चाय मांगते हैं. संसाधन की कमी से कोई किसी को मारपीट कर कैसे भगा सकता है.

IST 2026 अशोक प्रसाद चंपारण से कहते हैं कि राज ठाकरे देश को बांटने का काम कर रहे हैं.

IST 2025 मोहित कहते हैं कि भारत-चीन के मुद्दे पर या किसी भी राष्ट्रीय मुद्दे पर देश एक सुर में बोलता है.

IST 2024 मोहित दिल्ली से कहते हैं कि सरकारी नौकरी में आवेदन का हक देशभर के लिए होता है. राज्य के लिए नहीं. जब सरकार ने नहीं रोका तो राज ठाकरे क्यों.

IST 2021 वो कहते हैं कि मुंबई में हमलों के वक्त एक भारतीय मरा, कोई मराठी या कहीं और का नहीं.

IST 2019 बहस एकबार फिर गर्म. एक श्रोता राजस्थान से कहते हैं कि हम हिंदुस्तानी हैं. ठाकरे से किसी भी तरह सहमत नहीं हुआ जा सकता है.

IST 2017 अमित इंदौर से कहते हैं कि मध्य प्रदेश में भी उत्तर प्रदेश के लोगों की वजह से दिक्कतें आ रही हैं.

IST 2013 संजीव कहते हैं कि स्थानीय लोगों का पहला हक़ होने की बात से बहुत हद तक सीमित नहीं हुआ जा सकता है.

IST 2012 एक श्रोता कहते हैं कि राज ठाकरे की बात सही है लेकिन उनका तरीका ग़लत है.

IST 2010 संजीव सुमन आईआईटी रुड़की से हैं. वो कहते हैं कि राजेश अरोड़ा के इस तर्क से सहमत नहीं हुआ जा सकता कि अप्रशिक्षित श्रम का पलायन न हो.

IST 2009 बीबीसी इंडिया बोल में बहस गर्म. बात पंजाब की उठी और फिर पलायन को गलत ठहराने की भी.

IST 2008 अजय यादव बिहार से कहते हैं कि जो क्षमतावान हैं उन्हें कहीं भी काम मिलना चाहिए. उन्हें रोकना नहीं चाहिए.

IST 2007 राजस्थान से एक श्रोता कहते हैं कि उनके पास कुछ भी नहीं है तो फिर वो कहाँ जाएं. क्या राज्यवार चीज़ों को समझें

IST 2006 राजेश कहते हैं कि वो खुद भी उत्तर प्रदेश से हैं लेकिन वो राज ठाकरे के बजाय अपने राज्य की सरकारों पर उंगली उठाना चाहते हैं.

IST 2004 बंगलौर से राजेश कहते हैं कि राज्य सरकारें लोगों के हित में काम करें तो पलायन न हो.

IST 2003 एक और श्रोता राहुल कहते हैं कि क्षेत्रवाद के तर्क गलत हैं.

IST 2001 आज के कार्यक्रम में पहली टिप्पणी सुरेंद्र प्रसाद की. वो कहते हैं कि राज ठाकरे का तर्क एकदम ग़लत है.

IST 1959 बीबीसी इंडिया बोल में आपका स्वागत. कार्यक्रम लाइव... अपनी राय रखें 1800-11-7000 के ज़रिए.

IST 1957 बीबीसी इंडिया बोल अब से कुछ देर में. मैं हूँ पाणिनि आनंद... नमस्कार. आज स्टूडियो में होंगे मोहनलाल शर्मा.

IST 1915 बीबीसी इंडिया बोल में शामिल होने के लिए आएं टोल फ्री नंबर 1800-11-7000 पर या hindi.letters@bbc.co.uk पर

IST 1915 इसबार का विषय है- क्या ठाकरे जैसे नेता तय करेंगे कि कहाँ काम करें हम..?

IST 1912 बीबीसी इंडिया बोल की ओर से आप सभी का स्वागत. अब से कुछ देर में यानी 48 मिनट बाद हम होंगे आपसे रूबरू...लाइव