सीरिया अपने ही लोगों की हत्या कर रहा है: बान की मून

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने महासभा के उद्घाटन सत्र में सीरिया सरकार की अपने ही लोगों की हत्या के लिए निंदा की. उन्होंने सीरिया में लड़ाई खत्म करने की अपील भी की.

बान की मून ने कहा कि सीरिया में पिछले पांच साल से जारी गृह युद्ध में हुई ज्यादातर आम नागरिकों की मौत के लिए वहां की बशर अल असद सरकार ज़िम्मेदार है.

उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति असद की सेना आस-पड़ोस के नागरिकों पर बम गिरा रही है और उनकी सत्ता का विरोध कर रहे लोगों को प्रताड़ित कर रही है.

इस बीच अंतरराष्ट्रीय रेड क्रॉस का कहना है कि सीरिया के अलेप्पो शहर के पास सोमवार को संयुक्त राष्ट्र के सहायता दल पर हुए हवाई हमले में कम से कम 20 लोगों की मौत हो गई है.

एक बयान में संस्था ने कहा कि हमले में सीरियन अरब रेड क्रीसेंट के एक कार्यकर्ता की मौत हो गई है.

रूसी रक्षा मंत्रालय का कहना है कि हमले में रूसी या सीरियाई विमान शामिल नहीं थे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption सीरिया में पिछले पांच साल से गृह युद्ध जारी है.

सीरियाई सेना ने भी ऐसे हवाई हमले से इनकार किया है. रेड क्रॉस ने इसे अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार क़ानून का उल्लंघन करार दिया है.

हमले के बाद संयुक्त राष्ट्र ने सीरिया में मदद की गतिविधियों को फिलहाल रोक दिया है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption संयुक्त राष्ट्र महासभा को आखिरी बार संबोधित करते अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा

अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने आखिरी भाषण में ज्यादा खुलेपन और दुनिया के देशों में सहयोग बढ़ाने की अपील की है.

उन्होंने कहा कि एकीकरण के बेहतर मॉडल और राष्ट्र व संघर्ष के पुराने मॉडल के बीच चुनाव करना होगा.

न्यूयॉर्क में विश्व के नेताओं को संबोधित करते हए राष्ट्रपति ओबामा ने चेतावनी दी कि वैश्वीकरण के फायदों की समान साझेदारी ना होने पर कट्टरपंथ और घृणा बढ़ेगी.

उन्होंने कहा कि दुनिया अब संरक्षणवाद और अलगाववाद की तरफ़ नहीं लौट सकती है क्योंकि जिन देशों ने दीवारें खड़ी कीं उन्होंने खुद को घिरा हुआ पाया.

राष्ट्रपति ओबामा ने कहा कि, "हमें शरणार्थियों की और मदद करने की ज़रूरत है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)