न्यूयॉर्क धमाका: अफ़ग़ान नागरिक पर आरोप

अहमद ख़ान राहामी इमेज कॉपीरइट AP

अमरीका के न्यूयॉर्क और न्यूजर्सी में रविवार को हुए बम धमाकों के मामले में अफ़ग़ान मूल के अहमद ख़ान राहामी को अभियुत बनाया गया है.

इससे पहले अहमद को न्यूजर्सी में एक पुलिसकर्मी की हत्या की कोशिश के मामले में अभियुत बनाया गया था.

पुलिस ने अहमद के ख़िलाफ़ चार्जशीट दायर की है. इसमें उनपर जनसंहार के हथियारों के इस्तेमाल, बमबारी और संपत्ति को नुक़सान पहुंचाने के आरोप लगाए गए हैं.

पुलिस के मुताबिक़. ''अहमद एक शहीद की तरह मरना चाहते हैं. चरमपंथी विचारधारा समर्थक एक पत्रिका में लिखे एक लेख में उन्होंने यह बात कही है.''

कोर्ट के दस्तावेज़ों के मुताबिक़ अहमद इन हमलों की तैयारी काफ़ी पहले से कर रहे थे. उन्होंने ईबे से बम बनाने में मददगार कोई उपकरण भी मंगवाया था.

इमेज कॉपीरइट AFP

अहमद ख़ान राहामी इस समय पुलिस हिरासत में हैं. 28 साल के अहमद को हिरासत में लिए जाने से पहले पुलिस और उनके बीच हुई गोलीबारी में एक पुलिस अधिकारी घायल हो गए थे.

इस दौरान अहमद भी घायल हो गए. उनका अस्पताल में इलाज चल रहा है.

अमरीकी जांच एजेंसी एफ़बीआई के मुताबिक़ राहामी एक अमरीकी नागरिक है. वो न्यूजर्सी के फ्राइड चिकन रेस्टोरेंट में अपने परिवार वालों के साथ काम करते थे.

अधिकारियों ने बताया कि वो अपराधशास्त्र की पढ़ाई के लिए मिडिलसेक्स काउंटी कॉलेज भी गए थे. लेकिन डिग्री हासिल नहीं की थी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

अधिकारियों के मुताबिक़ राहामी के व्यवहार में बदलाव उस समय देखा गया जब वो चार साल पहले अफ़गानिस्तान से लौटे.

अफ़ग़ानिस्तान से लौटने के बाद उन्होंने दाढ़ी बढ़ा ली, पारंपरिक इस्लामिक पोशाक पहनने लगे और अपने स्टोर के पीछे जाकर नमाज़ पढ़ने लगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)