सुषमा का भाषण 'झूठ का पुलिंदा'

इमेज कॉपीरइट Twitter

संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की प्रतिनिधि मलीहा लोधी ने भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए भाषण को 'झूठ और आधारहीन आरोपों का पुलिंदा' बताया है.

भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के भाषण के बाद मलीहा लोधी ने कहा, "सबसे बड़ा झूठ ये है कि कश्मीर भारत का अविभाज्य हिस्सा है."

मलीहा लोधी के बयान पर जवाब देते हुए संयुक्त राष्ट्र में भारतीय प्रतिनिधि इनम गंभीर ने फिर दोहराया कि "कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है, और हमेशा रहेगा."

सुषमा स्वराज ने कश्मीर का जिक्र करते हुए कहा था कि अगर पाकिस्तान समझता है कि वो भारत का हिस्सा छीन सकता है तो उसका मंसूबा पूरा नहीं होगा. उन्होंने कहा, "कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है."

इमेज कॉपीरइट Twitter

सुषमा के भाषण के बाद मलीहा लोधी ने ट्विटर पर लिखा, "कश्मीर के विवाद को अंतरराष्ट्रीय तौर पर मान्यता मिली हुई है. ये संयुक्त राष्ट्र एजेंडा के सबसे पुराने विषयों में है."

मलीहा लोधी ने आगे लिखा है, "दूसरा झूठ ये है कि कश्मीर में मानवाधिकारों का कोई उल्लंघन नहीं हो रहा है. जबकि उल्लंघन दस्तावेजों में दर्ज हैं."

उन्होंने संयुक्त राष्ट्र में बलूचिस्तान का मुद्दा उठाए जाने पर सवाल किया है.

मलीहा ने ट्विटर पर लिखा है, " बलूचिस्तान का मुद्दा उठाना, जो कि एक आंतरिक मुद्दा है, संयुक्त राष्ट्र के चार्टर के सिद्धांतों और अंतरराष्ट्रीय नियमों का खुला उल्लंघन है."

उन्होंने ये भी कहा है कि भारतीय विदेश मंत्री का ये दावा कि सही नहीं है कि उनके देश ने पाकिस्तान पर बातचीत के लिए कोई शर्त नहीं लगाई है.

भारतीय प्रतिनिधि इनम गंभीर ने मलीहा लोधी को संबोधित करके यह सवाल भी किया कि "क्या पाकिस्तान की प्रतिनिधि इस बात की पुष्टि करेंगी कि पाकिस्तान आतंकवाद को राष्ट्र की नीति के तौर पर नहीं प्रयोग करता?"

भारतीय प्रतिनिधि ने पाकिस्तानी राजदूत से यह सवाल भी पूछा कि "पाकिस्तान के सैन्य अभियान के बावजूद अभी तक पाकिस्तान में आतंकवाद की पनाहगाहें क्यूं पनप रही हैं?"