पाकिस्तानी सिनेमाघरों में नहीं चलेंगी भारतीय फ़िल्में

इमेज कॉपीरइट CRISPY BOLLYWOOD

पाकिस्तान के प्रमुख सिनेमाघरों ने भारतीय फ़िल्में दिखानी बंद कर दी हैं.

सिनेमाघरों ने इसे देश के सैन्यबलों के समर्थन में उठाया गया क़दम बताया है.

भारत प्रशासित कश्मीर के उड़ी सेक्टर में हुए चरमपंथी हमलों में भारतीय सैनिकों की मौत और भारतीय सेना के नियंत्रण रेखा पर सर्जिकल स्ट्राइक करने के दावों के बाद दोनों देशों के बीच तनाव है.

भारतीय फ़िल्म निर्माताओं के संगठन के पाकिस्तानी कलाकारों पर प्रतिबंध लगाने के एक दिन बाद पाकिस्तानी सिनेमाघरों ने ये फ़ैसला लिया है.

पाकिस्तान के चर्चित सिनेमा चेन सुपर सिनेमा ने 29 सितंबर को अपने फ़ेसबुक पेज पर किए पोस्ट में कहा है कि वह पाकिस्तानी सेना के समर्थन में अपने सभी सिनेमाघरों में तुरंत प्रभाव से भारतीय फ़िल्मों के प्रदर्शन को रोक रहा है.

इमेज कॉपीरइट CRISPY BOLLYWOOD

फ़ेसबुक पोस्ट में भारतीय सिने सामग्री से जुड़ी सीडी और डीवीडी की बिक्री पर रोक लगाए जाने का आह्वान भी किया गया है.

वहीं लाहौर हाई कोर्ट में याचिका दायर कर पाकिस्तान में भारतीय फ़िल्मों पर प्रतिबंध लगाने की मांग भी की गई है.

भारत में भी पाकिस्तानी कलाकारों का विरोध हो रहा है.

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने पाकिस्तानी कलाकारों को भारत छोड़ने की धमकी भी दी है.

इसी बीच बॉलीवुड के चर्चित अभिनेता सलमान ख़ान ने पाकिस्तानी कलाकारों का बचाव करते हुए कहा है कि 'कलाकार आतंकवादी' नहीं हैं.

इस बयान के बाद सलमान ख़ान को भी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)