भारत की शिकायत लेकर यूएन पहुँचा पाकिस्तान

इमेज कॉपीरइट Twitter/ Maleeha Lodhi

पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर भारत के सर्जिकल स्ट्राइक के दावे को संयुक्त राष्ट्र में उठाने के लिए राजनयिक स्तर पर कोशिशें तेज़ कर दी हैं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की स्थाई प्रतिनिधि मलीहा लोधी ने संयुक्त राष्ट्र के महासचिव बान की मून से मुलाक़ात में सर्जिकल स्ट्राइक के भारत के दावे को झूठ करार दिया.

मलीहा लोधी ने कहा कि नियंत्रण रेखा पर तनाव बढ़ाने के लिए भारत पूरी तरह ज़िम्मेदार है.

पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र से ये भी कहा है कि पाकिस्तान ने अब तक संयम बरता है, लेकिन किसी भी तरह के हमले और उकसावे का कड़ाई से जवाब देगा.

पाकिस्तान ने हालांकि भारत के सर्जिकल स्ट्राइक के दावे को ग़लत बताया है लेकिन ये भी कहा कि भारत ने पाकिस्तान के प्रति आक्रामक रवैये की बात खुद मानी है.

उन्होंने आरोप लगाया कि भारत कश्मीर की समस्या से ध्यान हटाने के लिए तनाव को बढ़ावा दे रहा है.

इमेज कॉपीरइट Twitter/ Maleeha Lodhi

लोधी ने ट्वीट किया कि बान की मून ने पाकिस्तान और भारत सरकार से कश्मीर समेत सभी मुद्दों को शांतिपूर्ण तरीके से हल करने की अपील की है.

वहीं संयुक्त राष्ट्र ने नियंत्रण रेखा पर सर्जिकल स्ट्राइक करने के भारत के दावों पर सवाल उठाया है.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून के प्रवक्ता स्टीफ़ान दुजारिक ने कहा है कि संयुक्त राष्ट्र के सैन्य प्रेक्षक दल ने भारत और पाकिस्तान नियंत्रण रेखा पर कोई गोलीबारी सीधे तौर पर नहीं देखी है.

इस बीच नवंबर में होने वाली सार्क बैठक से पांच सदस्य देशों के पीछे हटने के बाद पाकिस्तान ने भी बैठक को स्थगित कर दिया है.

इमेज कॉपीरइट AP

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ''पाकिस्तान 19वें सार्क सम्मेलन को बाधित करने के भारत के फ़ैसले की निंदा करता है.''

इसके बाद भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने ट्वीट कर कहा कि पाकिस्तान ने सार्क सम्मेलन स्थगित कर दिया है और पाकिस्तान क्षेत्र में चरमपंथ के खिलाफ़ भावनाओं को स्वीकार करने पर मजबूर हुआ है.

इससे पहले, शुक्रवार को पाकिस्तान में प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक हुई जिसमें कहा गया कि पाकिस्तान की अमन कायम रखने की ख्वाहिश को उसकी कमजोरी न समझा जाए.

आने वाले मंगलवार को पाकिस्तान की सुरक्षा कमेटी की बैठक होनी है. बुधवार को पाकिस्तानी संसद का एक संयुक्त सत्र भी बुलाया गया है. इसमें भारत और पाकिस्तान के बीच चल रहे मौजूदा तनाव पर बातचीत की जाएगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)