सीरिया: एलेप्पो पर गिराए गए बैरल बम

इमेज कॉपीरइट Reuters

सीरिया के एलेप्पो शहर में शनिवार सुबह से शुरू हुई बमबारी में एक अस्पताल को निशाना बनाया गया जिस पर इसी हफ़्ते पहले भी हमला किया गया था.

रूसी और सीरियाई वायुसेना एलेप्पो के पूर्वी हिस्से पर हमला कर रही हैं जो विद्रोहियों के कब्ज़े में है.

सीरिया में युद्धविराम टूटने के बाद करीब एक हफ़्ते पहले सीरियाई सुरक्षा बलों ने एलेप्पो में विद्रोहियों को निशाना बनाना शुरू किया है.

अमरीका ने कहा कि रूस नरमपंथी विद्रोहियों को जिहादियों की तरफ़ धकेल रहा है.

एक समय में सीरिया का औद्योगिक और व्यावसायिक गढ़ रहा एलेप्पो साल 2012 से दो हिस्सों में बंटा हुआ है.

इमेज कॉपीरइट AP

संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि रूसी और सीरियाई सेना के हमलों में पिछले एक हफ़्ते में बच्चों समेत करीब 400 नागरिकों की मौत हुई है.

रिपोर्टों के मुताबिक एलेप्पो के पूर्वी इलाके में विद्रोहियों की बमबारी में कई लोगों की मौत हुई है.

एक एनजीओ सीरियन अमेरिकन मेडिकल सोसाइटी ने समाचार एजेंसी एएफ़पी को बताया कि उसके एक अस्पताल पर हेलिकॉप्टरों से दो बैरल बम गिराए गए हैं.

एनजीओ से जुड़े अदहम सहलॉल ने कहा," रिपोर्टें हैं कि क्लस्टर बम भी गिराए गए हैं. "

एम10 अस्पताल पर बुधवार को बमबारी की गई थी इसलिए कामकाज ठप होने के कारण इसमें कम लोग मौजूद थे.

इमेज कॉपीरइट AFP

सेना ने बड़े इलाके पर कब्ज़ा करने का दावा किया है लेकिन विद्रोहियों ने इस दावे को खारिज कर दिया है.

फ़लक अल शाम गुट के अबु हमाम ने समाचार एजेंसी रॉयटर्स से कहा, " इलाकों पर कब्ज़ा करने में सेना के नाकाम रहने के बाद पुराने शहर में भारी बमबारी जारी है. "

वहीं ब्रिटेन आधारित सीरियन ऑब्ज़र्वेट्री फ़ॉर ह्यूमन राइट्स ने कहा है कि दमिश्क के बाहर घौटा इलाके पर सरकारी सुरक्षा बलों ने बैरल बम गिराए हैं.

होम्स में चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट के खिलाफ़ भी सीरियाई सेना की लड़ाई जारी है.

वहीं अमरीका और रूस में सीरिया को लेकर आरोप प्रत्यारोप जारी हैं.

रूस का आरोप है कि अमरीका बशर अल असद को राष्ट्रपति पद से हटाने के लिए जिहादी गुटों को बचा रहा है.

अमरीका ने कहा है कि सीरिया पर रूस के साथ सहयोग को ख़त्म कर सकता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)