हैती पहुंचा ख़तरनाक तूफ़ान मैथ्यू

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption तूफ़ान मैथ्यू का असर जमैका में भी महसूस किया जा रहा है

हैती के पश्चिमी तटों पर समुद्री तूफान मैथ्यू पहुंच चुका है जिसकी वजह से वहां मूसलाधार बारिश हो रही है,

समुद्र में लहरें हिलोरे मार रही हैं और हवाएं 230 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से चल रही हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption समुद्री तूफ़ान मैथ्यू के आने से पहले तेज़ हवाएं

कई तटीय इलाके एक मीटर तक बाढ़ के पानी में डूब गए हैं.

हाल के वर्षों में आए अटलांटिक तूफानों में से यह सबसे शक्तिशाली समुद्री तूफ़ान है.

दक्षिण के तटीय इलाक़ों से मिल रही ख़बरों के मुताबिक़ कई घरों के छत उड़ गए हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption हैती में कई लोग बाढ़ संभावित क्षेत्रों में रहते हैं. साइन बोर्ड में लिखा है, "ब्रिकी के लिए घर"

अमरीका के राष्ट्रीय तूफ़ान केंद्र के मुताबिक़ "जीवन को ख़तरा पैदा करने वाली" परिस्थितियों को क़ाबू कर लिया गया है.

वहीं हैती के अंतरिम राष्ट्रपति जोकोलर्म प्रीवर्त का कहना है कि कई लोगों की जान जा चुकी है.

उन्होंने कहा, "कई लोगों की मौत हो चुकी है. ये लोग समुद्र में गए हुए थे. कई लोग लापता हैं. इनलोगों ने अलर्ट की अनदेखी की थी. ये लोग जान से हाथ धो बैठे."

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption हैती में अधिकारी लोगों को घर खाली करने के लिए मना रहे हैं

मैथ्यू के उत्तर की ओर बढ़ने पर कुछ इलाक़ों में क़रीब 102 सेंटीमीटर तक की बारिश हो सकती हैं, जिससे भूस्खलन और बाढ़ की संभावना बन गई है.

हैती दुनिया के सबसे ग़रीब देशों में से एक है और कई निवासी बाढ़ संभावित क्षेत्रों में रहते हैं.

हैती में अधिकारियों का कहना है कि क़रीब तेरह सौ आपातकालीन शरण स्थल बनाए गए हैं जिसमें तीन लाख चालीस हज़ार लोगों को आसरा दिया जा सकता है.

हैती में दोनों हवाई अड्डों को बंद कर दिया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)