नशेड़ियों को फ्रांस सरकार का अनोखा गिफ्ट

नशीले पदार्थ,ड्रग इमेज कॉपीरइट AFP

फ्रांस की राजधानी पेरिस में हेरोइन जैसे नशीले पदार्थों के आदी लोगों के लिए ड्रग रूम खोला गया है. इस रुम की विशेषता यह है कि इसमें जाकर नशा करने वाले लोगों को ड्रग लेने की आज़ादी होगी.

इस विवादस्पद ड्रग रूम का उद्घाटन स्वास्थ्य मंत्री मेरिसोल टूरेन और पेरिस की पहली महिला मेयर एन्ना ईडालगो ने मंगलवार को किया.

इस ड्रग रूम में नशीले पदार्थों का सेवन करने वाले लोगों को हेरोइन जैसी भारी नुकसान करने वाली ड्रग के बदले कम नुकसान पहुंचाने वाली ड्रग भी रोगाणुहीन इंजेक्शन के साथ मुहैया करायी जाएंगी.

इस ड्रग रूम के आलोचकों का मानना है कि इससे नशीले पदार्थों के गलत इस्तेमाल को बढ़ावा मिलेगा.

टूरेन के अनुसार,' फ्रांस ड्रग रूम स्थापित करने वाला दसवां देश बन गया है. इसके साथ ही देश में दो और जगह इस तरह के ड्रग रूम खोले जाने की योजना है. नशे के खिलाफ़ लड़ाई में यह हमारे देश के लिए बेहद महत्वपूर्ण क्षण है.'

इस किस्म के ड्रग रूम को खोलने के पीछे जो मुख्य तर्क दिया जा रहा है वह यह है कि इस तरह की जगहें नशे के आदी लोगों को वक्त पड़ने पर इलाज की सुविधा मुहैया कराएंगी. वह समाज सेवकों के सीधे संपर्क में रहेंगे जो वक्त पड़ने पर उनकी मदद कर स​केंगे.

फ्रांस सरकार का मानना है कि अधिकांशत: नशे के आदी लोग गरीब,पिछड़े और रोगी होते हैं. एक सुरक्षित और साफ वातावरण के संपर्क में आने पर इन रोगियों का कई खतरों से बचाव किया जा सकता है. जैसे अपराधी ड्रग डीलरों से हासिल ​किए गए भारी नुकसान पहुंचाने वाले नशीले पदार्थों के बजाए कम नुकसान पहुंचाने वाले पदार्थ के सेवन से रोगियों के सफल ईलाज की संभावना काफी बढ़ जाती है.

इमेज कॉपीरइट AFP

जिस अस्पताल में यह सुविधा केंद्र शुरू किया गया है, उसमें रोगियों के आने जाने के लिए अलग से प्रवेश द्वार का प्रावधान किया गया है. इस केंद्र में पंजीकरण कराना आवश्यक होगा. लेकिन पंजीकरण में अपना असली नाम लिखवाना अनिवार्य नहीं होगा. पुलिस भी वहां ज़बरदस्ती किसी को नहीं ले जा सकेगी.

रोगियों को निजता प्रदान करने के लिए इस सुविधा केंद्र में एक दर्जन के करीब क्यूबिकल बनाए गए हैं.

फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्रालय के 2011 के आंकड़ों के अनुसार, 'फ्रांस में दस फीसदी नशे के आदी लोगों को एचआईवी/एड्स है. चालीस फीसदी से ज़्यादा लोग हेपटाइटिस सी से ग्रसित हैं. कीटाणु से सनी सुईयां और असुरक्षित सेक्स इनमें बीमारी पनपने का मुख्य कारण बनता है.

फ्रांस के अलावा ड्रग रूम स्विट्ज़रलैंड,नीदरलैंड,जमर्नी,डेनमार्क,स्पेन और कनाडा में आधिकारिक तौर पर खुले हुए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)