एचएफ़सी गैसों को सीमित करने पर सहमति

इमेज कॉपीरइट Getty Images

पर्यावरण को दूषित होने से बचाने के लिए 150 देश हाइड्रोफ्लोरोकार्बन (एचएफ़सी) यानी ग्रीन हाउस गैसों के उपयोग में कमी लाने पर सहमत हो गए हैं.

रेफ्रीजिरेशन और एयर कंडीशनिंग में प्रयोग होने वाली एचएफ़सी गैस वैश्विक तापमान को बढ़ाने में एक बड़ी भूमिका निभाती है.

इस समझौते के तहत विकसित देश ग़रीब देशों की तुलना में शीघ्र ही अपने यहां रसायनों का उपयोग कम करने के लिए प्रतिबद्ध हैं.

शुक्रवार को रवांडा में अमरीका के विदेश मंत्री जॉन कैरी ने प्रतिनिधियों से कहा था, ''एचएफ़सी गैस हमारे पर्यावरण के लिए विनाशकारी हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)