15 साल की किशोरी दो लोगों की हत्या की दोषी

इमेज कॉपीरइट FILE PHOTO

इंग्लैंड में 15 साल की एक किशोरी को दो लोगों की हत्या का दोषी पाया गया है.

हत्या के समय किशोरी की उम्र 14 साल थी. जिनकी हत्या की गई, वो मां-बेटी थे.

किशोरी ने उनकी हत्या करने के लिए अपने एक दोस्त की मदद ली जिसकी उम्र 15 साल है.

लड़के ने मुकदमे की शुरुआत के दौरान ही हत्या का जुर्म कुबूल कर लिया था.

लेकिन किशोरी ने हत्या में शामिल होने से शुरू में इंकार किया था.

49 वर्षीय एलिज़ाबेथ एडवर्ड्स और उनकी बेटी के शव 15 अप्रैल को उनके बिस्तर में मिले थे.

इमेज कॉपीरइट Police issue

जांच में पाया गया कि पहले तकिए से मुंह को दबाया गया और फिर चाक़ू से कई बार वार किए गए.

हत्या के बाद किशोर और किशोरी ने साथ में नहाया, यौन संबंध बनाए और चार फिल्में देखीं जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया.

हत्या क्यों की गई, इसकी वजह स्पष्ट नहीं हो पाई है लेकिन ईर्ष्या को इसकी एक वजह बताया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)