एवरेस्ट फतह करने वाली पहली महिला का निधन

इमेज कॉपीरइट Getty Images

दुनिया के सबसे ऊंचे पर्वत शिखर माउंट एवरेस्ट पर पहुंचने वाली पहली महिला जुन्को ताबेई का निधन हो गया है.

जुन्को ताबेई के परिवार ने इसकी जानकारी दी है. वो 77 साल की थीं.

उन्हें चार साल पहले कैंसर से पीड़ित होने की जानकारी मिली थी. उन्होंने सैटामा के अस्पताल में आखिरी सांस ली.

वो साल 1975 में एवरेस्ट पर पहुंची थीं. तब उनकी उम्र 35 साल थी. उसके बाद साल 1992 तक वो दुनिया की सात सबसे ऊंची चोटियों पर पहुंचने में कामयाब रहीं.

माउंट एवरेस्ट पर पहुंचने के 12 दिन पहले वो बर्फीले तूफान की चपेट में आ गई थीं. उनके एक गाइड ने उन्हें बर्फ से बाहर निकाला. इसके बाद भी उन्होंने चढ़ाई जारी रखी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

साल 2012 में जुन्को ताबेई ने 'जापान टाइम्स' से कहा था कि उनकी उपलब्धियों को जिस तरह देखा जाता है, उन्हें उस पर गर्व है.

उन्होंने कहा था, "1970 के दौर में जापान में आम तौर पर माना जाता था कि पुरुष बाहर काम करेंगे और महिलाएं घर पर रहेंगी. जो महिलाएं काम करती भी थीं, उन्हें भी सिर्फ चाय परोसने को कहा जाता था. इसलिए उन्हें बढ़ावा देने की बात सोचना भी मुश्किल था."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)