सिखों को 'चार उपहार' देगी पाक सरकार

इमेज कॉपीरइट File Photo

पाकिस्तान सरकार ने सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक की 547वीं जयंती के अवसर पर समुदाय को 'चार उपहार' देने की योजना बनाई है.

हिंदुस्तान के विभाजन के बाद भारत चले गए हिंदुओं और सिखों की सम्पत्ति पर नियंत्रण रखने वाले मतरुक़ा वक्फ़ इमलाक़ बोर्ड के अध्यक्ष सादिक़ उल फ़ारूक़ ने बीबीसी को बताया कि 14 नवंबर को ननकाना साहिब में शुरु होने वाले आयोजनों से पहले वहां लगभग 70 साल से बंद गुरुद्वारे को दोबारा खोल दिया जाएगा.

उन्होंने बताया कि लगभग 350 साल पुराने इस गुरुद्वारे का नवीनीकरण कार्य जारी है जो अगले कुछ ही दिनों में पूरा हो जाएगा.

इस गुरुद्वारे को विभाजन से पहले दंगों के दौरान बंद कर दिया गया था.

इमेज कॉपीरइट Thinkstock

बोर्ड के अध्यक्ष सादिक़ उल फ़ारूक़ ने बताया कि ननकाना साहिब में गुरु नानक का एक स्मारक भी बनाया जा रहा है जिसका निर्माण तीन-चार महीने में पूरा हो जाएगा.

उन्होंने बताया कि गुरुनानक की जयंती के मौके पर गुरु नानक विश्वविद्यालय का शिलान्यास भी किया जाएगा.

'चौथे उपहार' के बारे में उन्होंने बताया कि करतारपुर साहिब में बिजली परियोजना का काम भी 10 नवंबर तक पूरा हो जाएगा.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

भारत और पाकिस्तान के बीच संबंधों में तनाव के बावजूद गुरु नानक जयंती पर होने वाले समारोह के लिए बड़ी संख्या में भारतीय श्रद्धालु पाकिस्तान पहुंच रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)