बांग्लादेश में हिंदू मंदिरों-घरों पर हमला

इमेज कॉपीरइट Masuk Hridoy
Image caption फ़ेसबुक पर इस्लाम विरोधी पोस्ट के बाद कई हिंदू मंदिरों में तोड़फोड़ और लूटपाट की गई है.

बांग्लादेश में फ़ेसबुक पर इस्लाम विरोधी पोस्ट के ग़ुस्से में कई हिंदू मंदिर और घर जला दिए गए.

बीबीसी बांग्ला की रिपोर्ट के मुताबिक़ फ़ेसबुक पर एक आपत्तिजनक पोस्ट किए जाने के बाद बांग्लादेश के ब्राह्मणबरिया ज़िले के नासिरनगर में उपद्रवियों ने हिंदू समुदाय के घरों और मंदिरों को निशाना बनाया.

नासिरनगर के पुलिस प्रमुख अब्दुल कादेर ने बीबीसी को बताया है कि कम से कम 20 घरों में आग लगा दी गई है.

एक स्थानीय पत्रकार के मुताबिक़ कम से कम दस हिंदू मंदिरों को आग लगाई गई है और उनमें लूटपाट की गई है.

मुस्लिम बहुल देश बांग्लादेश में अल्पसंख्यक हिंदुओं की संपत्तियों पर इस तरह के हमले नई बात नहीं हैं.

इमेज कॉपीरइट Masuk Hridoy
Image caption पुलिस के मुताबिक़ कम से कम बीस हिंदू घरों पर हमला भी किया गया है.

रिपोर्टों के मुताबिक़ हिंदू समुदाय के कई लोगों के साथ मारपीट भी की गई है.

पुलिस का कहना है कि एक हिंदू युवक ने फ़ेसबुक पर एक पोस्ट की थी जिसमें मुसलमानों के पवित्र धर्म स्थल काबा की फोटो को एडिट कर उसपर हिंदू देवता शिव को बैठा दिया गया था.

पुलिस ने शुक्रवार को रासराज दास नाम के एक युवक के इस मामले में गिरफ़्तार भी किया था.

बावजूद इसके स्थानीय लोगों का ग़ुस्सा शांत नहीं हुआ और उन्होंने ख़ूब उत्पात मचाया.

इसके बाद शनिवार को नासिरनगर में तनाव रहा. स्थानीय इस्लामी संस्था अहल-ए-सुन्नत-वल-जमात ने रविवार को प्रदर्शन और बंद का आह्वान किया था.

इमेज कॉपीरइट Masuk Hridoy
Image caption स्थानीय संवाददाता के मुताबिक़ कम से कम दस मंदिरों को निशाना बनाया गया है.

रिपोर्टों के मुताबिक़ जहां प्रदर्शन हुए वहां से आधा किलोमीटर की दूरी पर ही हिंदू आबादी को निशाना बनाया गया.

पुलिस का कहना है कि हमलों के शक़ में छह लोगों को हिरासत में लिया गया है.

हालांकि अभी पुलिस ने ये नहीं बताया है कि हिरासत में लिए गए लोग किस संगठन से जुड़े हैं.

हिंसा के बाद बांग्लादेश के सीमा सुरक्षा बलों को इलाक़े में तैनात किया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)