इतनी जल्द 6.5 लाख ईमेल की जांच असंभव: ट्रंप

इमेज कॉपीरइट AP

अमरीकी चुनाव में रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनल्ड ट्रंप ने एफ़बीआई के उस फ़ैसले को अनुचित बताया है जिसमें एफ़बीआई ने कहा कि ईमेल के संबंध में हिलेरी क्लिंटन पर आपराधिक मामला नहीं बनता है.

एफ़बीआई के निदेशक ने कहा कि हिलेरी के ईमेल की नई जांच में कुछ भी ऐसा नहीं मिला है जिसके चलते ब्यूरो अपने पुराने फ़ैसले को बदले.

इससे हिलेरी क्लिंटन को आख़िरी पलों में चुनाव प्रचार के दौरान फ़ायदा मिलने की उम्मीद है. इसके बाद क्लिंटन का चुनाव अभियान संभालने वाली टीम काफ़ी ख़ुश है.

एफ़बीआई की घोषणा से पहले जारी सर्वेक्षणों के मुताबिक क्लिंटन को ट्रंप के ऊपर चार से पांच अंकों की बढ़त हासिल होती दिख रही है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

क्लिंटन पर आरोप है कि 2009 से 2013 के दौरान विदेश मंत्री होने के दौरान उन्होंने निजी ईमेल सर्वर का इस्तेमाल किया था.

एफ़बीआई के फ़ैसले की ट्रंप ने आलोचना की है. उन्होंने डीट्रॉयट के एक उपनगरीय इलाके में आम लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि एफ़बीआई के लिए इतने कम समय में 6,50,000 ईमेल की जांच कर पाना असंभव है.

ट्रंप ने मिशिगन में अपने समर्थकों से कहा, "हिलेरी क्लिंटन दोषी हैं, वो ये जानती हैं. एफ़बीआई भी इसे जानती हैं. यह पूरी तरह से भ्रष्ट व्यवस्था है. ये मैं लंबे समय से कह रहा हूं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)