10 बातें, जिनपर है ट्रंप को भरोसा...

इमेज कॉपीरइट Getty Images

रिपब्लिकन पार्टी के डोनल्ड ट्रंप अमरीका के 45वें राष्ट्रपति बन गए हैं. हिलेरी और ट्रंप के बीच कड़ी चुनावी टक्कर रही. लेकिन ट्रंप के चुनावी एजेंडे को लोगों ने ज़्यादा पसंद किया.

तो जानिए क्या है ट्रंप का पॉलीटिकल एजेंडा, जिसका उन्होंने प्रचार किया. और वो 10 बातें भी, जिनपर उन्हें बहुत भरोसा है.

1. ट्रंप कहते हैं, "न्यू जर्सी में रह रहे अरब-अमरीकी लोगों ने 9/11 हमले के बाद जश्न मनाया था." इन लोगों से ट्रंप ख़ार खाते हैं. हालांकि उनके इस दावे का कोई पुख्ता प्रमाण नहीं मिलता. अपने इसी तर्क के आधार पर ट्रंप अमरीकी मस्जिदों की निगरानी करवाने की बात कहते हैं.

2. 'इस्लामिक स्टेट' ग्रुप से पूछताछ करने और उनसे निपटने के लिए ट्रंप 'वॉटर बॉर्डिंग' जैसे क्रूर तरीक़ों को अपनाने की बात कहते हैं. ट्रंप अपने प्रचार अभियान के दौरान भी कहते रहे हैं कि अगर वो सत्ता में आए, तो बमबारी कर इस्लामिक स्टेट को नरक बना देंगे. साथ ही 'इस्लामिक स्टेट' के चरमपंथियों की तेल के कुओं तक पहुंच नहीं रहने देंगे.

3. ट्रंप मानते हैं कि सद्दाम हुसैन और मुअम्मर अल-गद्दाफ़ी जैसे शासक अगर ज़िंदा होते, तो दुनिया एक बेहतर जगह बनी रहती. सीएनएन को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा था कि ये लोग आतंकवाद से लड़ रहे थे और उन्होंने आतंकियों को मारकर बहुत अच्छा काम किया.

4. वो मेक्सिको और अमरीका के बीच एक बड़ी दीवार खड़ी करना चाहते हैं. उनका मानना है कि मेक्सिको रीजन के लोग अमरीका के लिए लीगल क्रिमिनल हैं. मेक्सिको के लोगों को वो 'नशाख़ोर' और 'क्रिमिनल' कहकर संबोधित करते हैं. ट्रंप अमरीका में रह रहे सीरियाई प्रवासियों के भी ख़िलाफ़ हैं और बिना काग़ज़ात के अमरीका में रह रहे लोगों को देश से निकालने की बात करते हैं.

5. कैलिफॉर्निया में हुए चरमपंथी हमले की निंदा करते हुए उन्होंने कहा था कि अमरीका में मुस्लिम लोगों को आने की इजाज़त ही नहीं दी जानी चाहिए.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

6. ट्रंप पुतिन के फ़ैन हैं. वो उनकी कई बार तारीफ़ कर चुके हैं. ट्रंप को भरोसा है कि बतौर अमरीकी राष्ट्रपति रूस के राष्ट्रपति पुतिन से उनके संबंध अच्छे रहेंगे. लेकिन चीन को लेकर ट्रंप हमेशा से आलोचनात्क रहे हैं.

7. एक व्यापारिक परिवार से वास्ता रखने वाले डोनल्ड ट्रंप अपनी खुलकर प्रशंसा करते हैं. वो बिज़नेस को लेकर खुला दिल रखते हैं. उन्होंने चुनाव प्रचार के दौरान वादा किया था कि वो सत्ता में आए, तो वे 15 फ़ीसदी बिज़नेस टैक्स में छूट देंगे.

8. अमरीका में बेरोज़गारी के आंकड़ों पर ट्रंप विश्वास नहीं करते. काले लोगों को वो अमरीका में क्राइम के लिए ज़िम्मेदार ठहराते हैं.

9. क्लाइमेट चेंज के मुद्दे पर वो ज्यादा गंभीर नहीं दिखते. वो कहते हैं कि साफ़ जल और साफ़ वायु ज़रूरी है. लेकिन क्लाइमेट चेंज का दुनिया भर में हौवा बना दिया गया है.

10. महिलाओं को उनके लुक्स के आधार पर आंकने का आरोप ट्रंप पर लग चुका है. वो अपने से बेहद कम उम्र की लड़कियों के साथ डेटिंग करने के लिए चर्चित रहे हैं. वहीं गर्भपात को लेकर उनके विचार स्पष्ट नहीं हैं. वो कह चुके हैं कि गर्भपात करवाने के लिए अगर डॉक्टर ज़िम्मेदार होंगे, तो महिलाओं को गर्भधारण के लिए आरोप मानना चाहिए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)