जब वित्त मंत्री घूस लेते हुए पकड़े गए

इमेज कॉपीरइट Reuters

घूसखोरी के कथित मामले में रूस के आर्थिक मामलों के मंत्री एलेक्सी उल्याकायेब को हिरासत में ले लिया गया है.

रूस की प्रमुख भ्रष्टाचार विरोधी संस्था इंवेस्टिगेटिव कमेटी ने कहा कि एलेक्सी उल्याकायेब को 20 लाख डॉलर का भुगतान किया गया.

उल्याकायेब के मंत्रालय के सकारात्मक आकलन के बाद दिग्गज तेल कंपनी रोज़ेनफ़ट ने एक दूसरी तेल कंपनी बासेनफ़ट का 50 फीसद हिस्से का अधिग्रहण किया था.

सोवियत संघ में 1991 में हुए तख्तापलट के प्रयास के बाद घूसखोरी के मामले में हिरासत में लिए एलेक्सी उल्याकायेब सबसे बड़े नेता हैं.

इंवेस्टिगेटिव कमेटी के प्रवक्ता स्वेतलाना पेट्रोनेकोव ने रूसी समाचार एजंसी आरआईए से कहा, '' यह रोज़नफट के प्रतिनिधि को डरा-धमकाकर धनउगाही करने का मामला है''

उन्होंने कहा कि एलेक्सी उल्याकायेब को रिश्वत लेते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार किया गया.

इंवेस्टिगेटिव कमेटी का कहना है कि मंत्री के खिलाफ जल्द ही आरोपपत्र दायर किया जाएगा. इस आरोप में उन्हें आठ से 15 साल तक की जेल की सज़ा हो सकती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)