'ट्रंप से मिलने में अभी वक़्त, भाषण और नीति में फ़र्क'

इमेज कॉपीरइट Reuters

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा है कि अमरीका के नव-निर्वाचित राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप से उनकी शिखर वार्ता को लेकर अभी से कुछ कहना जल्दबाज़ी होगी.

ऐसा संभावनाएं जताई जा रही थीं कि ट्रंप की जीत के बाद रूस और अमरीका के बीच ठंडे पड़े रिश्तों में दोबारा गर्माहट लाने की कोशिश होगी और दोनों नेताओं की जल्द मुलाक़ात हो सकती है.

पुतिन ने कहा कि हालांकि वो और ट्रंप, दोनों ही रिश्तों को सामान्य बनाने की इच्छा जता चुके हैं, लेकिन अभी वो अपनी टीम बना ही रहे हैं.

रूस के राष्ट्रपति ने ये भी कहा कि कई बार चुनाव के प्रचार अभियान के दौरान दिए गए भाषणों और असल नीति में फ़र्क़ होता है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

सीरिया और यूक्रेन में जारी संकट को लेकर दोनों देशों के बीच रिश्ते तल्ख़ हैं.

पुतिन और अमरीका के मौजूदा राष्ट्रपति बराक ओबामा के बीच एपेक समिट के दौरान चार मिनट की मुलाकात हुई.

इस बीच ओबामा ने कहा है कि जनवरी में अमरीकी राष्ट्रपति का पद्भार सौंपने के बाद वो डोनल्ड ट्रंप की सार्वजनिक तौर पर आलोचना नहीं करेंगे.

पेरू में एशिया प्रशांत समिट के बाद ओबामा ने कहा कि वो ट्रंप को उनकी नीतियां आगे बढ़ाने का मौक़ा देंगे, लेकिन अगर अमरीकी मूल्यों को ख़तरा पैदा होता है, तो उन्हें (ओबामा को) बोलने पर मजबूर होना होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)