जापान: फ़ुकुशिमा से टकराईं सूनामी की लहरें

इमेज कॉपीरइट Reuters

जापान के उत्तर-पूर्वी तट पर भूकंप का ज़ोरदार झटका महसूस होने के बाद फ़ुकुशिमा परमाणु संयंत्र के इलाक़े से सूनामी की एक मीटर ऊंची लहरें टकराई हैं.

साल 2011 में आई सूनामी के कारण ये परमाणु संयंत्र पूरी तरह से तबाह हो गया था. हालांकि, फ़िलहाल इस तरह का कोई नुकसान होने की ख़बर नहीं है, लेकिन सूनामी से जुड़ी चेतावनी जारी है.

रिक्टर स्केल पर 6.9 की तीव्रता वाले भूकंप का केंद्र फुकुशिमा से 70 किलोमीटर दूर ज़मीन से 11 किलोमीटर नीचे स्थित था.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption 2011 में भूकंप के बाद उठी सुनामी लहरों से फ़ुकुशिमा परमाणु संयंत्र में भारी नुकसान किया था.

भूकंप के बाद जापान में कैबिनेट के मुख्य सचिव योशिहिदे सुगा ने कहा था कि फुकुशिमा परमाणु संयंत्र के तीसरे रिएक्टर के कुलिंग सिस्टम ने काम करना बंद कर दिया है.

हालांकि अभी तक तापमान बढ़ने के संकेत नहीं हैं, ना ही दूसरे परमाणु संयंत्र में कोई अनियमितता दिखी है.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption फ़ाइल फ़ोटो

उन्होंने कहा कि सरकार ने स्थिति का जायज़ा लेने के लिए टास्क फ़ोर्स का गठन किया है.

फ़िलहाल भूकंप से किसी नुकसान या जान-माल की क्षति की ख़बर नहीं है लेकिन भूकंप इतना शक्तिशाली था कि टोक्यो तक इसके झटके महसूस किए गए.

जापान मौसमविज्ञान एजेंसी ने कहा है कि भूकंप स्थानीय समय अनुसार मंगलवार स्थानीय समयानुसार सुबह 6 बजे आया.

जापान के कुमामोटो प्रांत में अप्रैल में आए भूकंप में 50 लोगों की मौत हो गई थी. 2011 में फ़ुकुशिमा में भूकंप के बाद विनाश में 18 हज़ार से ज़्यादा लोगों की या तो मौत हो गई थी या फिर वे लापता हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)