मैं हिजाब क्यों पहनती हूं?

18 साल की हाला हिंदवानी हिजाब पहनती हैं. उनसे अक्सर इसके बारे में कई सवाल पूछे जाते हैं. हाला ने बीबीसी को इन सवालों के जवाब दिए हैं.

आप हिजाब क्यों पहनती हैं?

मैं खुद को ढंकने के लिए हिजाब पहनती हूं.

मैं पिता, भाई, अंकल, बेटे (भावी बेटा) के सामने हिजाब नहीं पहनती हूं. मैं नन-महारम यानी उस इंसान के सामने हिजाब पहनती हूं जिससे भविष्य में मेरी शादी हो सकती है.

उनके सामने मैं हिजाब पहनती हूं, खुद को ढंकती हूं. आगे चलकर मेरी शादी भी तो होनी है.

हिजाब किस किस तरह के होते हैं?

हिजाब को पहनने के कई सारे ढंग होते हैं. जैसे कि टरबन, रेट्रो- गुलाब की तरह, राइट-लेफ्ट, टरकिश, स्केवयर शैली.

हिजाब न मिले तो क्या कुछ भी पहन लेती हैं?

हां. जब मुझे हिजाब नहीं मिलता तो मैं उसकी जगह सिर पर कुछ भी पहन लेती हूं. वो सब जो मेरे आस-पास मौजूद होता है

इसमें बिस्तर की चादर, परदा हो सकता है. यहां तक कि कभी कभी तो मैं रसोई का एप्रेन भी सर पर बांध लेती हूं.

हिजाब पर कितने पैसे खर्च हो जाते हैं?

एक हिजाब में लगभग 5 डॉलर खर्च करने होते हैं. इसके नीचे जो हेडबैंड और पिन लगाने होते हैं उसमें ढाई डॉलर. तो पूरा खर्च 7.50 डॉलर का आता है. इस तरह एक महीने में 8 हिजाब पहनी जाए तो हर महीने 60 डॉलर, एक साल में 720 डॉलर का खर्च आता है.

पिछले 18 सालों में मैंने 13,000 डॉलर खर्च किए. यानी एक छोटी कार की कीमत.

हिजाब क्यों पहनती हैं?

क्योंकि मैं मुस्लिम हूं. कुछ लोग इसे इस्लाम की हिस्सा नहीं मानते. लेकिन मैं इसे अपने धर्म का हिस्सा मानती हूं.

यह मुझे आजादी का अहसास देता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे