अमरीका: कैब ड्राइवर ने मुस्लिम सांसद से की 'बदसलूकी'

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption अमरीका में मिनेसोटा से सांसद इलहान उमर

अमरीका की पहली सोमाली-अमरीकी सांसद ने कहा कि उन्हें 'मुस्लिम विरोधी नफ़रत' का सामना करना पड़ा और वॉशिंगटन डीसी में एक टैक्सी ट्राइवर ने उनके साथ 'बदसलूकी' की.

अमरीका में मिनेसोटा से सांसद इलहान उमर ने कहा कि मंगलवार को एक कैब ड्राइवर ने उन्हें हिजाब उतारने के लिए कहा.

34 साल की महिला सांसद ने कहा कि यह वाकया व्हाइट हाउस में पॉलिसी ट्रेनिंग के तुरंत बाद हुआ.

पढ़ें: मुसलमानों की प्रोफ़ाइलिंग हो:

उमर डेमोक्रेटिक पार्टी से हैं. वह कीनिया के रिफ्यूजी कैंप से अमरीका आई थीं. जब उमर बच्ची थीं तभी वह अमरीका आई थीं.

उन्होंने मिनेसोटा से रिपब्लिकन उम्मीदवार को हराकर इतिहास रच दिया था. मिनेसोटा से उमर ने स्टेट हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव का चुनाव जीता है.

इमेज कॉपीरइट Facebook
Image caption उमर की फ़ेसबुक पोस्ट

सोशल मीडिया पर उमर ने इस पूरे वाकये को पोस्ट किया है. उन्होंने लिखा है, ''मैं कैब से होटल जा रही थी. मेरे प्रति कैब ड्राइवर की नफ़रत खुलकर सामने आई. उसका व्यवहार काफी आपत्तिजनक, इस्लामोफोबिक और लिंगभेदी ताने की तरह था. मैंने कभी ऐसी स्थिति का सामना नहीं किया था."

पढ़ें, न्यूयॉर्क: मुसलमानों में गुस्सा भी और ख़ौफ़ भी

उमर ने लिखा है, ''कैब ड्राइवर ने मुझे आईएसआईएस का आतंकी कहा. उसने मुझे हिजाब हटाने की धमकी दी. मैं समझ नहीं पा रही थी कि कैसे इस स्थिति से बाहर निकलूं. मैं इस कैब से सुरक्षित निकलने की कोशिश कर रही थी. मैं अब भी इस वाकये से बुरी तरह विचलित हूं. हिजाब को मुस्लिमों से नफ़रत के लिए उपकरण की तरह इस्तेमाल किया जा रहा है. जिनके दिलों में हमारे प्रति नफरत भरी पड़ी है, उनके लिए मैं प्रार्थना करती हूं."

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK
Image caption व्हाइट हाउस में ट्रेनिंग सेशन के दौरान सांसद इलहान उमर

वॉशिंगटन मेट्रोपॉलिटन पुलिस डिपार्टमेंट ने बीबीसी से कहा कि उसके पास इस मामले में किसी भी तरह की कोई शिकायत नहीं आई है.

पुलिस अफ़सर ने कहा कि अभी तक किसी ने इस मामले में कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई है. उमर ने कहा कि वह वॉशिंगटन से वापस जाने के बाद पुलिस में शिकायत दर्ज कराएंगी.

उन्होंने कहा, " जहां मैं रह रही हूं वहां ख़ुद को सुरक्षित महसूस नहीं करती."

इस मामले में उमर ने और जानकारी देने से इनकार कर दिया. उन्होंने कहा कि फिलहाल उनका ध्यान ट्रेनिंग, कॉन्फ्रेंस और मीटिंग्स पर है. एक प्रवक्ता ने मिनेसोटा ट्रिब्यून से कहा कि वह कुछ दिनों बाद मिनेसोटा लौटेंगी.

जहां से उमर ने चुनाव जीता है वहां अमरीका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने कहा था कि सोमाली प्रवासियों के कारण यहां कट्टरता को बढ़ावा मिल रहा है. उमर पूर्वी अफ्रीकन महिला संगठन की निदेशक भी रह चुकी हैं.

मिनेसोटा में सोमाली समुदाय के काफी लोग रहते हैं. अमरीकी जनगणना के अनुसार मिनेसोटा में इनकी 50 हजार है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे