एक पिल्ले ने कराई राष्ट्रपति की विदाई?

इमेज कॉपीरइट Getty Images

दक्षिण कोरिया के जिस राजनीतिक स्कैंडल ने राष्ट्रपति पार्क गुन-हे को निगला, उसमें एक कुत्ते की बड़ी अहम भूमिका रही.

कहानी कुछ यूं है कि को यंग टे नाम के व्यक्ति को राष्ट्रपति की दोस्त चोई सून सिल ने अपने बेटी के पिल्ले की देखभाल करने को कहा, लेकिन यंग कुत्ते को छोड़कर गोल्फ़ खेलने चले गए, जिसे लेकर उनमें और राष्ट्रपति की मित्र में ज़बरदस्त झगड़ा हुआ.

यंग टे ने राष्ट्रपति के दोस्त के ख़िलाफ़ भ्रष्टाचार के मामले में मीडिया को ढेर सारी सूचनाएं दीं जिसका अंजाम ये हुआ कि आख़िरकार राष्ट्रपति के ख़िलाफ़ महाभियोग प्रस्ताव पारित हो गया है.

यंग को चोई सून सिल का टॉय बॉय भी कहा जाता रहा है.

हालांकि एक संसदीय कमेटी के सामने यंग ने कहा है कि उनका चोई से 'रिश्ता' नहीं है.

यंग ने कुत्ते पर हुए झगड़े के बारे में बताते हुए कहा है कि "वो मेरे साथ नौकरों की तरह का बर्ताव करतीं. कई बार वो मुझ पर चीखी चिल्लाईं. "

इससे नाराज़ होकर यंग ने चोई और पार्क के रिश्तों को लेकर मीडिया को जानकारी देने का फ़ैसला किया. जिससे उनसे बदला लिया जा सके.

उन्होंने महीनों तक सबूत जुटाए जिससे पार्क प्रशासन पर चोई का असर साबित हो सके.

इसमें वो सीसीटीवी फुटेज भी थी जिसमें चोई राष्ट्रपति के सहयोगियों के साथ नौकरों की तरह बर्ताव करती दिखीं.

उम्दा नैन नक्श और खिलाड़ियों सरीखे जिस्म के मालिक को यंग टे किसी पॉप स्टार की तरह नज़र आते हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

यंग एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक हासिल कर चुके हैं. हालांकि वो काफी पहले ही फेंसिंग से संन्यास ले चुके हैं.

यंग की चोई से मुलाक़ात 2012 में पार्क के राष्ट्रपति चुने जाने के कुछ वक्त बाद हुई थी और तब वो हैंडबैग और कपड़े बनाने वाली कंपनी चला रहे थे.

फिर दोनों क़रीब होते गए.

इमेज कॉपीरइट AP

इसके बाद यंग को कई सेलेब्रिटी ग्राहक भी मिले.

दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति को क्यों करना पड़ा महाभियोग का सामना

दक्षिण कोरिया की राष्ट्रपति पर महाभियोग

राष्ट्रपति कार्यालय और वायग्रा की 400 गोलियां

इमेज कॉपीरइट AFP/Getty Images

अब राष्ट्रपति के खिलाफ महाभियोग पर मुहर लग चुकी है. वहीं यंग लोगों की नज़रों में हीरो बन चुके हैं.

संसद में सुनवाई के दौरान एक सांसद ने "भानुमती का पिटारा खोलने के लिए" को की प्रशंसा की.

राष्ट्रपति के ख़िलाफ़ प्रदर्शन, लाखों शामिल

सैमसंग पर रिश्वतख़ोरी मामले में छापे

इमेज कॉपीरइट Getty Images

संसद में ये पूछे जाने पर कि राष्ट्रपति की नज़दीकी चोई का विरोध करने पर उन्हें डर तो नहीं लगा.

को यंग टे ने कहा, "नहीं"

उन्होंने कहा कि, "मेरा पारा चढ़ा हुआ था और मैंने इस बारे में कभी सोचा ही नहीं."

यंग ने कहा कि उन्होंने जो किया, उसे लेकर उन्हें कोई पछतावा नहीं है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)