'ट्रंप को बढ़ाने के लिए रूस ने दिया दख़ल'

इमेज कॉपीरइट Reuters

अमरीकी ख़ुफ़िया एजेंसियों का मानना है कि नवंबर में हुए राष्ट्रपति चुनाव में डोनल्ड ट्रंप को बढ़त दिलाने के लिए रूस ने दबे-छिपे तरीके से काम किया था.

'रूसी हैकिंग' की समीक्षा होगी

न्यूयॉर्क टाइम्स में छपी ख़बर के मुताबिक, हैकिंग में रूस की भूमिका के संबंध में अमरीकी ख़ुफिया एजेंसियों के पास 'पुख़्ता सबूत' हैं.

वॉशिंगटन पोस्ट में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, सीआईए ने अपने मूल्यांकन में इसी तरह की बातें पाई हैं.

इमेज कॉपीरइट AP

लेकिन ट्रंप की टीम ने इन आरोपों को ये कहते हुए ख़ारिज कर दिया है कि ''ये वही लोग हैं जिन्होंने कहा था कि सद्दाम हुसैन के पास जनसंहार के हथियार थे.''

वहीं रूसी अधिकारी भी हैंकिग के आरोपों से इंकार करते रहे हैं.

हालिया राष्ट्रपति चुनाव के दौरान सिलसिलेवार हुए साइबर हमलों के लिए रूस को ज़िम्मेदार ठहराया जाता है. निवर्तमान राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इसकी जांच का आदेश दिया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे