तालिबान ने 'तलाक़ देने वाली महिला को मारा'

इमेज कॉपीरइट AFP

अफ़ग़ानिस्तान में अधिकारियों का कहना है कि तलाक देकर दूसरी शादी करने वाली एक महिला को तालिबान ने गोली मार दी है.

अज़ीज़ा नाम की इस महिला का पति ईरान रहने चला गया था.

रिपोर्टों के मुताबिक महिला के पति ने तलाक़ को विदेश से ही मंज़ूरी दे दी थी.

पाझवॉक़ न्यूज़ के मुताबिक उसके पूर्व पति ने अपने एक रिश्तेदार को अज़ीज़ा को तलाक़ देने के लिए अधिकृत किया था.

लेकिन ईरान से लौटने पर उसने तालिबान की स्व नियुक्त अदालत में अज़ीज़ा की दूसरी शादी के ख़िलाफ़ अर्ज़ी दी थी.

पाक महिला खिलाड़ी का तालिबान के नाम संदेश

तालिबान ने अग़वा किए 35 यात्री

कौन है तालिबान के नए प्रमुख

इमेज कॉपीरइट Getty Images

ये घटना बदघीस प्रांत की है.

गूगल स्टोर ने हटाया तालिबान का ऐप

स्थानीय नेता नासेर नज़री ने कहा, ''महिला, जिसकी उम्र 25 साल मानी जा रही है, उसकी हत्या शनिवार को कर दी गई थी.''

अफ़ग़ानिस्तान में अधिकारियों का कहना है कि तालिबान ने इस महिला को उसके पिता के घर जाने के लिए मजबूर किया और फिर वहां उसे गोली मार दी.

लेकिन तालिबान प्रवक्ता क़ारी यूसुफ़ अहमदी ने बीबीसी को बताया इस हत्या में तालिबान का कोई हाथ नहीं है.

तालिबान के मुताबिक महिला की हत्या पारिवारिक झगड़े की वजह से हुई है.

क़ारी यूसुफ़ अहमदी ने कहा कि इस मामले में तालिबान ने दो लोगों को हिरासत में लिया है और शरिया कानून के मुताबिक सज़ा देंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे