रूसी विमान क्रैश: '92 में से कोई भी यात्री नहीं बचा'

रूसी विमान क्रैश

रूस के रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि काला सागर में क्रैश हुए रूस के सैन्य विमान में सवार सभी 92 यात्री मारे गए हैं. ये विमान सीरिया जा रहा था.

रक्षा मंत्रालय ने बताया है कि दुर्घटनाग्रस्त विमान के मलबे का कुछ हिस्सा सोची तट से डेढ़ किलोमीटर दूर काला सागर में 165-230 फीट की गहराई में मिला है.

रूस के सैन्य जहाज़, हेलिकॉप्टर व ड्रोन अब भी विमान के बाकी हिस्से को तलाशने में लगे हैं. साथ ही शवों को भी ढूंढा जा रहा है.

पढ़ें- रूसी टी-154 के क्रैश में गई थी पोलैंड के राष्ट्रपति की जान

पढ़ें- वर्ष 2016 के 5 बढ़े हवाई हादसे

इमेज कॉपीरइट AFP

रूसी रक्षा मंत्रालय के अनुसार, रूसी सेना का यह विमान सोची के एडलर हवाई अड्डे से उड़ान भरने के कुछ ही मिनट बाद काला सागर में क्रैश हो गया था.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption सोची के जहाज़ी घाट पर दुर्घटनाग्रस्त विमान का मलबा लेकर लौटते मजदूर

जानिए पूरा घटनाक्रम:

  • रूसी सैन्य विमान टीयू-154 ने स्थानीय समयनुसार सुबह 05:20 मिनट पर उड़ान भरी.
  • बीस मिनट बाद रडार से यह विमान लापता हो गया.
  • विमान में 90 से ज्यादा लोग सवार थे. रूसी रक्षा मंत्रालय के अनुसार रूस के चर्चित और सेना के अधिकारिक बैंड एलेक्सेंड्रोफ़ एनसेंबल के 64 सदस्य इसमें शामिल थे.
  • साथ ही विमान में 9 पत्रकार और चालक दल के 8 सदस्य सवार थे.
  • मारे गए सभी 92 यात्रियों की लिस्ट इस लिंक पर क्लिक करके देखी जा सकती है. (रूसी भाषा में)
  • इस विमान ने सीरिया के लटाकिया प्रांत के लिए उड़ान भरी थी.
  • रूसी सेना के प्रवक्ता के मुताबिक़ विमान सीरिया में तैनात रूसी सेना के जवानों के नए साल के कार्यक्रम के लिए लोगों को ले जा रहा था.
इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption बैंड 'एलेक्सेंड्रोफ़ एनसेंबल' को समर्पित श्रद्धासुमन. यह तस्वीर मॉस्को की एक स्ट्रीट में ली गई.

ये ख़बरें भी पढ़ें-

रूसी विमान के 'कारगो में बम था'

रूसी विमान हादसे में 'बाहरी वजह'

हवा में ही टूटा था रूसी विमान

रूसी टेलिविजन ने कुछ आवाज़ें भी जारी की हैं, जिनमें एयर ट्रैफ़िक कंट्रोलरों और दुर्घटनाग्रस्त हुए विमान के संचालकों के बीच की बातचीत को सुना जा सकता है.

इन आवाज़ों से यह साफ हो जाता है कि रडार से गायब होने से पहले तक विमान में किसी किस्म की भी हलचल नहीं थी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption सेना के अधिकारिक बैंड एलेक्सेंड्रोफ़ एनसेंबल की साल 2015 में ली गई एक तस्वीर. (फ़ाइल फ़ोटो)

रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने इस मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं. साथ ही मृतकों के परिजनों के नाम शोक संदेश भेजा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार