नन्हीं फ़ातिमा को मिली नई ज़िंदगी
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

नन्हीं फ़ातिमा को मिली नई ज़िंदगी

इस सारे साल हमने सीरिया से एक से बढ़कर एक दर्दनाक कहानियां सुनी हैं. लेकिन तीन साल की फ़ातिमा के साथ जो हुआ उससे रोंगटे खड़े हो जाते हैं. इस नन्ही बच्ची के लिए ये बताना मुश्किल है कि क्यों उसके देशवासियों ने एक-दूसरे पर बंदूकें तान रखी हैं. लेकिन उस जंग के स्थाई निशान अब उसकी ज़िंदगी का हिस्सा हैं.रिकीन मजिठिया की इस ख़ास रिपोर्ट की तस्वीरें आपको विचलित कर सकती हैं.