नाइट क्लब पर हमला, 39 की मौत

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
हमले के बाद सक्रिय हुईं आपात सेवाएं

इस्तांबुल के गर्वनर का कहना है कि शहर के एक नाइट-क्लब पर हुए हमले में कम से कम 39 लोग मारे गए हैं. इनमें कम के कम 16 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं.

इमेज कॉपीरइट EPA

गवर्नर के मुताबिक, मृतकों में एक पुलिस अधिकारी भी शामिल है. उन्होंने इस हमले को चरमपंथी हमला बताया है.

इमेज कॉपीरइट EPA

स्थानीय समयानुसार देर रात लगभग डेढ़ बजे हुए इस हमले में कम से कम 40 लोग घायल हुए हैं. गवर्नर का कहना है कि इस हमले में एक हमलावर शामिल था.

इमेज कॉपीरइट EPA

ये भी पढ़ें: तुर्की में रूसी राजदूत की हत्या

इमेज कॉपीरइट Getty Images

सीएनए तुर्की के मुताबिक हमलावर सांता के कपड़ों में आया था. ख़बरों के मुताबिक, रेना नामक इस नाइट-क्लब में हमले के वक्त सैकड़ों लोग मौजूद थे.

इमेज कॉपीरइट AP

हाल के महीनों में हुए चरमपंथी हमलों के मद्देनज़र तुर्की हाई अलर्ट पर था जिसकी वजह से शहर में लगभग 17,000 पुलिस अधिकारियों को तैनात किया गया था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption अंकारा में 13 मार्च 2016 को हुए हमले का फाइल फोटो

अधिकतर हालिया चरमपंथी हमले तथाकथित इस्लामिक स्टेट या कुर्द विद्रोहियों ने किए हैं.

इमेज कॉपीरइट AP

एक पखवाड़े पहले ही रूसी राजदूत आंद्रे कार्लोफ़ की तुर्की के ही एक पुलिस अधिकारी ने गोली मारकर हत्या कर दी थी.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption रूस के राजदूत आंद्रे कार्लोफ़ पर गोली चलाने वाले मेवलुत मेर्त एडिन्टास

इस घटना के बाद हमलावर पुलिस अधिकारी ने चिल्ला-चिल्लाकर कहा था कि उसने सीरियाई शहर एलेप्पो में रूस के शामिल होने का बदला लिया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)