कौन है जैरेड कुशनर जिनकी सलाह पर चलेंगे ट्रंप

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption ट्रंप की चुनाव में जीत के बाद कुशनर कैमरे की तरफ़ देखते हुए

पिछले नवंबर में जब सारी दुनिया व्हाइट हाउस से राष्ट्रपति बराक ओबामा और डोनल्ड ट्रंप के बाहर आने का इंतजा़र कर रही थी, ठीक उसी वक़्त कैमरा राष्ट्रपति निवास के साउथ लॉन में मौजूद एक शख़्स के आसपास घूम रहा था. वो व्यक्ति ओबामा के चीफ़ ऑफ़ स्टाफ़ डेनिस मैकडोना से बात में मशग़ूल था.

वो व्यक्ति जैरेड कुशनर थे - 35 साल के मृदु-भाषी अरबपति और ट्रंप के दामाद, जिन्हें ट्रंप ने राष्ट्रपति कार्यालय में सीनियर एडवॉयज़र नियुक्त किया है.

दामाद की सलाह पर अमरीका को चलाएंगे ट्रंप

कौन-कौन है ट्रंप के परिवार में

कुशनर ने ट्रंप के चुनाव प्रचार में बहुत अहम भूमिका निभाई थी - और कहा जाता है कि प्रचार की डिजिटल रणनीति तैयार करने और उसके लिए की गई अहम नियुक्तियां उन्होंने ही तय की थी. अब राष्ट्रपति कार्यालय में में भी उनका प्रभाव बढ़ेगा.

कुशनर एक मशहूर प्रॉपटी डेवलेपर और न्यूयार्क ऑब्ज़र्वर अख़बार के प्रकाशक हैं. समझा जाता है कि ट्रंप अपनी बेटी इवांका के पति - कुशनर की बातों को बहुत अहमियत देते हैं.

न्यूयॉर्क ऑब्ज़र्वर अख़बार के प्रकाशक और नामी गिरामी प्रॉपर्टी डीलर कुशनर शर्मीले स्वभाव के हैं और ख़ामोशी से काम करना पसंद करते हैं.

न्यूयॉर्क की गगनचुंबी इमारत, 666 फ़िफ़्थ एवेन्यू, उनकी ही है और महज़ 25 साल की उम्र में ही वो एक समय बहुत प्रभावशाली रहे न्यूयॉर्क ऑब्ज़र्वर अख़बार के मालिक बन गए थे.

वो बहुत कट्टर यहूदी है और उनके दादा-दादी हिटलर के यहूदियों पर किए गए जनसंहार के किसी तरह बच निकले थे.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption पत्नी इवांका के साथ वोट देते कुशनर

ट्रंप पर यूहूदी विरोधी होने का इलज़ाम लगाये जाने पर उन्होंने अपने ससुर का बचाव किया था और कहा था कि ट्रंप 'एक ऐसी शख्सियत हैं जिनमें आपको वो नज़र आएगा जो आप देखना चाहते हैं और आप आपको उनमें बुराइयां नज़र आएंगी जैसे कि नस्लवाद.'

कुशनर ने कहा था कि ट्रंप बहुत सारी वैसी बातें करने को भी तैयार हैं जिनसे दूसरे राजनीतिज्ञ बचने की कोशिश करते हैं.

जैरेड कुशनर का जन्म न्यू जर्सी में हुआ था और उनकी दो बहनें और एक भाई हैं. उनके पिता चार्ल्स ने प्रॉपर्टी के धंधे में ख़ूब पैसा कमाया था.

बहुत अच्छे नंबर न पाने के बावजूद भी उन्हें हारवर्ड यूनिवर्सिटी में दाख़िला मिला, जिसका ज़िक्र डैनियल गोल्डन की किताब, द प्राइस ऑफ़ एडमिशन: हाउ अमेरिकाज़ रूलिंग क्लास बाइज़ इट्स वे इंटू एलिट कॉलेजेज़; में किया है.

ट्रंप के पिता फ्रेड की तरह कुशनर के पिता चार्ल्स भी विवादों में रहे हैं और उनके पिता को टैक्स की चोरी के लिए जेल भी भुगतनी पड़ी थी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption कुशनर के पिता चार्ल्स टैक्स की चोरी और गवाहों पर दबाव बनाने के दोषी पाये गए थे.

टैक्स की चोरी के साथ-साथ उनपर गवाहों पर दबाव डालने का भी दोष था. उन्होंने क़बूल किया था कि उन्होंने अपने बहनोई के पास यौनकर्मी भेजा, फिर उसका विडियो बनाकर बहन को भेजकर कहा था कि अगर दोनों उनके ख़िलाफ़ गवाही देंगे तो उसका अंजाम अच्छा नहीं होगा.

जिस जज ने कुशनर के पिता को सज़ा सुनाई थी उनका नाम क्रिस क्रिस्टी था, और वो राष्ट्रपति चुनाव के लिए रिपब्लिकन उम्मीदवारों में से एक थे.

कहा जाता है कि कुशनर ने ही अपने ससुर ट्रंप को सलाह दी थी कि वो क्रिस्टी की बजाय माइक पेंस को उप राष्ट्रपति का उम्मीदवार बनाएं.

ट्रंप की तरह कुशनर के पास भी राजनीति के क्षेत्र का कम तजुर्बा है और उन्होंने लिखा था कि सरकार में किसी भी काम की देख-रेख के लिए बड़ी व्यवस्था है जो इसमें बाधा पैदा करती है, जबकि बिज़नेस में रिज़ल्ट सबसे अहम है, और मैनेजर को छूट होती है कि वो फ़ायदे को हासिल करने के लिए कौन से तरीक़े अपनाएगा.

कुछ लोगों ने कहा कि सरकार में बड़ी व्यवस्था इसलिए की जाती है ताकि कोई एक व्यक्ति चीज़ो को अपने हिसाब से चलाने की कोशिश न करे.

उनके अख़बार ख़रीदने के तीन साल बाद ही 15 साल से न्यूयॉर्क ऑब्ज़र्वर के संपादक रहे पीटर कप्लन ने इस्तीफ़ा दे दिया था. और पिछले सात सालों में अख़बार में छह संपादक आ और जा चुके हैं.

लेकिन ट्रंप से उलट कुशनर बहुत शांत और ख़ुद पर क़ाबू रखने वाले व्यक्ति हैं. वो कैमरे से दूर रहना पसंद करते हैं.

वो क़द काठी से भी छोटे हैं, मृदु भाषी हैं, और अपनी उम्र से कम दिखते हैं.

लेकिन ट्रंप से उनकी नज़दीकी इस बात की गवाह है कि अमरीकी प्रशासन पर उनका प्रभाव बहुत बड़ा होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे