जिसे मां समझती रही, वो उसकी किडनैपर निकली

इमेज कॉपीरइट Kamiyah Mobley Facebook
Image caption कामिया मोब्ले के साथ दाईं ओर वह महिला हैं जिन्होंने अस्पताल से उनका अपहरण कर लिया था.

18 साल तक एक लड़की जिस औरत को अपनी मां समझती रही, एक दिन उसे पता चला कि दरअसल वो एक किडनैपर है और वह एक चुराई गई बच्ची है.

कामिया मोब्ले की परवरिश करने वाली महिला पर अब अपहरण का मामला दर्ज किया गया है.

अमरीकी राज्य फ्लोरिडा के इस मामले में एक 18 साल पहले 1998 में एक अस्पताल से एक नवजात बच्ची को चुरा लिया गया था.

कामिया मोब्ले की दादी को पता चला कि उसकी अपहृत पोती जीवित और सही सलामत है तो खुशी से उनकी आंखें छलक पड़ीं.

कामिया का डीएनए टेस्ट करने के बाद उसकी पहचान की पुष्टि की गई.

इमेज कॉपीरइट facebook
Image caption कामिया मोब्ले की दादी का कहना था कि उन्हें पोती के जीवित मिलने का पूरा भरोसा था.

अधिकारियों के अनुसार उन्हें इस दौरान कई संकेत मिले लेकिन पिछले साल ऐसा सुराग मिला जिससे इस मामले को आखिरकार सुलझा लिया गया.

इसमें अपहृत लड़की और ग्लोरिया विलियम्स नामक महिला की तस्वीरें सामने आई थीं. ग्लोरिया को शुक्रवार को साउथ कैरोलिना से गिरफ्तार कर लिया गया.

कामिया मोब्ले ने अपनी दादी और परिवार से फोन पर बात की है और कहा है कि वह जल्द ही उनसे मिलेगी.

लड़की की दादी का कहना था कि उन्हें पोती के जीवित मिलने का पूरा भरोसा था. उन्होंने कभी भी उम्मीद का दामन नहीं छोड़ा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे