ताइवान मामले में 'आग से खेल रहे हैं ट्रंप'

इमेज कॉपीरइट EPA

चीन में सरकार के स्वामित्व वाले एक अख़बार ने वन चाइना पॉलिसी पर डोनल्ड ट्रंप की कड़ी आलोचना की है और कहा है कि वो 'आग से खेल रहे हैं.'

ट्रंप ने पहले भी वन चाइना पॉलिसी पर सवल उठाए हैं. अब उन्होंने एक इंटरव्यू दिया है जिसमें उन्होंने कहा है कि वन चाइना पॉलिसी पर बातचीत होनी चाहिए.

वन चाइना नीति पर समझौता नहीं- चीन

ट्रंप के फोन कॉल पर नाराज़ चीन

ड्रोन मामले को तूल दे रहा है अमरीका- चीन

असल में अमरीका की पुरानी रणनीति ये रही है कि चीन एक है ताइवान से अमरीका के संबंध अनौपचारिक रहेंगे.

चीन ताइवान को अपने से अलग हुआ प्रांत मानता है. ट्रंप ने वॉल स्ट्रीट जर्नल के साथ एक इंटरव्यू में कहा कि वो 'हर मुद्दे पर वार्ताओं के लिए तैयार हैं जिसमें वन चाइना पॉलिसी भी शामिल है.'

इमेज कॉपीरइट CHINA DAILY

चाइना डेली ने सोमवार को कड़े शब्दों में संपादकीय लिखकर ट्रंप को चेतावनी दी है कि वो 'ताइवान के मुद्दे पर आग से खेल रहे हैं.'

इससे पहले चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने भी कहा है कि वन चाइना पॉलिसी पर कोई बातचीत नहीं होगी और इसमें कोई बदलाव नहीं होगा.

तीन की ताइवान मामलों की समिति की प्रवक्ता एन फेंगशान ने कहा कि 'वन चाइना पॉलिसी में कोई बदलाव ताइवान की खाड़ी में शांति और स्थिरता के लिए गंभीर होगा.'

चीन के अखबार ग्लोबल टाइम्स ने भी छपे एक लेख में ट्रंप को 'अनुभवहीन' करार दिया गया है और कहा गया है कि ट्रंप ने एक बार चीन को नाराज़ किया है और अब उनकी ये आदत बढ़ ही रही है.'

ट्रंप ने राष्ट्रपति निर्वाचित होने के बाद ताइवान के नेता त्साई इंग वेन से फोन पर भी बातचीत की थी जिससे चीन बेहद नाराज़ हुआ था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)