फ़ेसबुक पर गैंगरेप का लाइव वीडियो, तीन गिरफ़्तार

इमेज कॉपीरइट AFP

स्वीडेन में रविवार को बलात्कार के संदेह में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया.

ऐसी ख़बरें थीं कि एक महिला से कथित बलात्कार का वीडियो फ़ेसबुक पर लाइव दिखाया गया था.

रविवार की सुबह स्वीडेन में उप्पासला की पुलिस को एक महिला ने संपर्क किया और कहा उन्होंने फ़ेसबुक पर एक सीमित ग्रुप में सामुहिक बलात्कार का लाइव वीडियो देखा है.

उस महिला के मुताबिक वीडियो के आखिर में एक व्यक्ति कहता है कि "तुम्हारा रेप हुआ है" और उसके बाद हंसता है.

पुलिस ने बाद में पुष्टि की कि कई अन्य लोगों ने भी वो वीडियो फुटेज देखा है.

कहा जा रहा है कि उस फ़ेसबुक ग्रुप के कई हज़ार सदस्य हैं.

पुलिस ने पुष्टि की है कि उन्होंने 19 से 25 साल के तीन लोगों और एक महिला को एक अपार्टमेंट में ढूंढ निकाला है.

उन लड़कों को घटनास्थल पर ही गिरफ्तार कर लिया गया.

वीडियो देखने के बाद पुलिस को संपर्क करनेवाली महिला 21 साल की जोसेफ़िन लुंडग्रेन हैं.

उन्होंने स्वीडेन के एक अख़बार को बताया कि महिला के साथ रेप करनेवाले एक युवक के पास गन थी.

उन्होंने कहा कि फ़ेसबुक ब्रॉडकास्ट को क़रीब 60 लोग लाइव देख रहे थे और कइयों ने भद्दे कॉमेंट भी लिखे.

फ़ेसबुक ने लाइव स्ट्रीमिंग की शुरुआत 2015 में की थी.

घटनास्थल की रिपोर्टिंग के लिए मीडिया संगठन इसका नियमित इस्तेमाल करते हैं.

साथ ही फ़ेसबुक यूज़र्स भी ज़्यादातर लोगों तक अपने अनुभवों को पहुंचाने के लिए फ़ेसबुक लाइव के फ़ीचर का इस्तेमाल करते हैं.

हालांकि इसके ज़रिए कई अपराध और हिंसा के वारदात की भी लाइव स्ट्रीमिंग हुई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे