ट्रंप के हाथ में स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी का कटा सिर!

इमेज कॉपीरइट @BW
Image caption 'बिज़नस वीक' का कवर

जर्मनी की प्रमुख पत्रिका डेअर श्पीगल के कवर पर छपे अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के एक कार्टून को लेकर निंदा हो रही है.

इस तस्वीर में डोनल्ड ट्रंप को स्टेच्यू ऑफ़ लिबर्टी का कटा हुआ सिर हाथ में पकड़े हुए दिखाया गया है.

जर्मनी के कई अख़बारों में इसकी आलोचना की जा रही है. यूरोपीय संसद में जर्मनी के उपाध्यक्ष ने इसे घटिया बताया है.

ट्रंप के ट्रैवल बैन के फ़ैसले पर कोर्ट की रोक

दबंग राजा ट्रंप और उनकी ट्रंपनीति

ट्रंप ने मीडिया को क्यों कहा 'बेईमान'?

राष्ट्रपति बनने के बाद ये हैं ट्रंप के ताबड़तोड़ आदेश

कार्टूनिस्ट एडेल रॉड्रिग्स का कहना है कि ये कार्टून लोकतंत्र का सिर काटने का प्रतीक है.

रॉड्रिग्स ने वॉशिंगटन पोस्ट को बताया कि वो चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट और डोनल्ड ट्रंप की तुलना इस तरह करना चाहते हैं जैसे ये कट्टरपंथ के दो सिरे हों.

इमेज कॉपीरइट @BW
Image caption 'बिज़नस वीक' का कवर

डोनल्ड ट्रंप के अमरीका के राष्ट्रपति बनने के बाद अमरीका-जर्मनी के रिश्तों में कुछ दूरियां आई हैं क्योंकि ट्रंप जर्मनी की चांसलर अगेला मैर्केल की नीतियों की आलोचना कर चुके हैं.

पिछले महीने डोनल्ड ट्रंप ने कहा था कि जर्मनी में बड़ी संख्या में प्रवासियों का स्वागत करने की नीति विनाशकारी ग़लती थी.

इमेज कॉपीरइट @THEECONOMIST
Image caption 'द इकॉनॉमिस्ट' का कवर

इससे पहले 2015 दिसंबर में न्यूयॉर्क डेली न्यूज़ के कवर पर छपे एक कार्टून में भी ट्रंप को स्टेच्यू ऑफ़ लिबर्टी के कटे हुए सिर के साथ दिखाया गया था.

इमेज कॉपीरइट NEW YORKER/INSTAGRAM

डेअर श्पीगल के संपादक क्लॉस ब्रिंकबॉमर ने संपादकीय लेख में लिखा है कि ट्रंप शीर्ष पर रहते हुए तख्तापलट की कोशिश कर रहे हैं और एक संकुचित लोकतंत्र स्थापित करना चाहते हैं.

व्हाईट हाउस ने उदारवादी मीडिया समूहों पर डोनल्ड ट्रंप की छवि ख़राब करने के लिए ग़लत और ग़ैरज़िम्मेदाराना पत्रकारिता करने का आरोप लगाया है.

इमेज कॉपीरइट @JACKFOWLER

कई दूसरी पत्रिकाएं भी अपने आने वाले संस्करण में कवर पेज का इस्तेमाल डोनल्ड ट्रंप और उनकी नीतियों पर टिप्पणियों के लिए कर रही हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे