इस्लामाबाद में वेलेंटाइन डे मनाने पर पाबंदी

इमेज कॉपीरइट AFP

पाकिस्तान की अदालत ने राजधानी इस्लामाबाद में वेलेंटाइन डे मनाने और मीडिया में इसके इश्तिहार पर अस्थाई पाबंदी लगा दी है.

इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने आदेश दिया है कि वह मीडिया में इसके प्रचार-प्रसार पर रोक लगाए और प्रशासन से भी कहा है कि वह सार्वजनिक स्थानों पर लोगों को वेलेंटाइन डे मनाने को रोके.

न्यायाधीश शौकत अजीज सिद्दीकी ने ये आदेश अब्दुल वहीद नाम के व्यक्ति की अर्जी पर सुनवाई करते हुए दिए.

अदालत ने अपने आदेश में सूचना मंत्रालय और पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया नियामक प्राधिकरण (पेमरा) के अधिकारियों से कहा है कि वे मीडिया को ऐसे कार्यक्रम की कवरेज से भी रोके.

वैलेंटाइन डे की तैयारी

वेलेंटाइन डे पर मुफ़्त कंडोम का ऑफ़र

इमेज कॉपीरइट EPA

वेलेंटाइन डे पर रोक लगाने की अपील दायर करने वाले अब्दुल का तर्क है, "ये इस्लामी परंपरा के खिलाफ है. पाकिस्तान इस्लाम के नाम पर बना है इसलिए यहां ऐसा कोई भी त्योहार नहीं मनाया जा सकता. "

कराची में रविवार को वेलेंटाइन डे मनाने के खिलाफ प्रदर्शन हुए थे.

इस 'वेलेंटाइन' से सबको प्यार हो गया था

'किस डे पर लड़कियों के लिए पापा बने आपदा'

इमेज कॉपीरइट EPA

अब्दुल वहीद का कहना था कि इस उत्सव को मनाने से मुसलमानों की भावनाएं बड़े पैमाने पर आहत होती हैं. इसलिए अदालत के पास ऐसे किसी कदम को रोकने का अधिकार है जो किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचने की संभावना हो.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे