यूएन महासचिव ने ट्रंप को चेतावनी दी

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption गुटेरेश ने ट्रंप के बयान पर उठी चिन्ताओं के बाद चेतावनी दी है

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेश ने डोनल्ड ट्रंप को चेतावनी दी है कि वो इसराइल-फ़लस्तीनी संघर्ष के लिए सुझाए गए दो राज्यों के समाधान को ख़ारिज ना करें क्योंकि इसके सिवा दूसरा कोई रास्ता नहीं है.

उन्होंने ये चेतावनी दशकों से चली आ रही अमरीकी विदेश नीति से अलग दिए गए ट्रंप के बयान के बाद दी है जिसमें ट्रंप ने कहा था कि वो उस किसी भी फ़ॉर्मूले का समर्थन करेंगे जिससे शांति आ सकती हो.

उनके इस बयान पर फ़लीस्तीनी पक्ष ने चिंता जताई थी कि कहीं अमरीका अलग फ़लस्तीन राष्ट्र बनाने की माँग को समर्थन देना बंद ना कर दे.

इसराइल-फ़लस्तीनी शांतिवार्ता 2014 में टूट गई थी.

क्या कभी फ़लस्तीन एक देश बन पाएगा?

फ़लस्तीन में चल पड़ी है उम्मीदों की फ़ैक्ट्री

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption डोनल्ड ट्रंप और बिन्यमिन नेतन्याहू ने अलग फ़लस्तीन राष्ट्र पर कोई संकल्प नहीं किया

ट्रंप के बयान पर चिन्ता

इसराइली प्रधानमंत्री बिन्यमिन नेतन्याहू के साथ बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में ट्रंप ने शांति के लिए एक महान सौदा करवाने का दावा किया था मगर कहा था कि दोनों पक्षों को समझौता करना होगा.

इस प्रेस कॉन्फ़्रेंस के बाद संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से दो-राष्ट्रों के समाधान को संभव बनाने के लिए हरसंभव प्रयास करने का आह्वान किया था.

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption इसराइल ने ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद कई नई यहूदी बस्तियों को मंज़ूरी दी

पिछले महीने ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद से इसराइल ने पश्चिमी तट और पूर्वी येरुशलम में उस ज़मीन पर हज़ारों नए घर बनाए जाने को मंज़ूरी दी है जिसपर फ़लस्तीनी दावा करते हैं.

ओबामा प्रशासन के साथ आठ साल तक मनमुटाव के बाद इसराइल को अब व्हाइट हाउस के साथ संबंध अच्छे होने की उम्मीद है.

प्रेस कॉन्फ़्रेंस में ना तो ट्रंप और ना नेतन्याहू ने स्वतंत्र फ़लस्तीन राष्ट्र बनाने के बारे में कोई स्पष्ट भरा दिया जो कि अमरीका की एक पुरानी नीति का हिस्सा रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे