मीडिया पर बरसे ट्रंप, छवि बिगाड़ने का आरोप

अमरीकी राष्ट्रपति के तौर पर अपने शुरुआती दिनों के कामकाज का बचाव करते हुए डोनल्ड ट्रंप ने मीडिया पर तीखा हमला बोला है.

व्हाइट हाउस में आनन-फ़ानन में बुलाई गई प्रेस वार्ता क़रीब एक घंटे चली जिसमें ट्रंप ने कहा कि प्रेस नियंत्रण से बाहर हो चुका है.

25 दिनों में ही ट्रंप के सुरक्षा सलाहकार फ़्लिन का इस्तीफ़ा

ट्रंप ने मीडिया को क्यों कहा 'बेईमान'?

ट्रंप ने कहा कि राष्ट्रपति का कार्यभार संभालने पर अमरीका और विदेश में उन्हें विरासत में गड़बड़ियां ही मिलीं, लेकिन उसके बाद भी मीडिया ने उनकी उपलब्धियों को कम कर दिखाया है.

उन्होंने कहा कि वो व्हाइट हाउस में प्रेस कांफ्रेंस में इसलिए आए हैं ताकि वो सीधे देश की जनता तक अपनी बात पहुंचा सकें.

ट्रंप ने मीडिया पर कहा कि,"प्रेस इतनी बेईमान हो चुकी है कि अगर हम इसके बारे में चर्चा नहीं करेंगे तो इससे अमरीकी लोगों का बड़ा नुकसान होगा."

इमेज कॉपीरइट Getty Images

डोनल्ड ट्रंप ने शेयर बाज़ार में आई तेज़ी और ग़ैरक़ानूनी अप्रवासियों पर कार्रवाई को अपने प्रशासन की सफलता का संकेत बताया.

इसके अलावा ट्रंप ने बताया कि यात्रा प्रतिबंध पर नया संशोधित कार्यकारी आदेश अगले हफ़्ते सामने आने की उम्मीद है.

उन्होंने कहा कि नए कार्यकारी आदेश को अदालत के आदेश के मुताबिक रूप दिया जा रहा है.

इससे पहले सात मुस्लिम बहुल देशों से आने वालों पर उनके लगाए प्रतिबंध पर अदालत ने रोक लगा दी थी.

कैबिनेट के शुरुआती दिनों में अव्यवस्था के दावे को ख़ारिज करते हुए ट्रंप ने कहा कि "नया प्रशासन एक फ़ाइन ट्यून मशीन की तरह (अच्छे तालमेल के साथ) काम कर रहा है."

रूस को लेकर घेरे में ट्रंप के NSA फ़्लिन

इससे पहले अमरीका में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार माइकल फ़्लिन को इस्तीफ़ा देना पड़ा था और श्रम मंत्री के लिए उम्मीदवार का नाम वापस लिया गया था.

ट्रंप ने अपने कैबिनेट में एलेग्ज़ेंडर एकॉस्टा को श्रम मंत्री के रूप में मनोनीत किया है. अगर एकॉस्टा की नियुक्ति पर संसद की मुहर लग जाती है तो वो ट्रंप कैबिनेट में पहले हिस्पैनिक (स्पेनी भाषा-भाषी) मंत्री होंगे.

ट्रंप ने कहा कि रूस के साथ अच्छे संबंधों के बारे में उनके रुख़ को मीडिया सही तरीके से पेश नहीं कर रहा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे