नीदरलैंड्सः भाँग की खेती पर संसद में मतदान

  • 22 फरवरी 2017
इमेज कॉपीरइट AP
Image caption नीदरलैंड्स में कॉफ़ी दूकानों से कम मात्रा में भाँग ख़रीदी जाती रही है

नीदरलैंड्स में संसद के निचले सदन ने भाँग की खेती को मंज़ूरी दे दी है.

इस विधेयक में कुछ शर्तों के अधीन भाँग उगानेवाले लोगों को सज़ा से छूट दिए जाने का प्रावधान है.

नीदरलैंड्स में तथाकथित कॉफ़ी बेचनेवाली दूकानों से बहुत कम मात्रा में भाँग ख़रीदी जाती रही है.

नीदरलैंड्सः डॉक्टर दे सकेंगे भाँग

जेल से भाँग की तस्करी करती बिल्ली दबोची गई

मगर भाँग उगाना और उन्हें कॉफ़ी दूकानों में बेचना ग़ैर-क़ानूनी है.

कॉफ़ी दूकान अपने यहाँ बिकनेवाली भाँग के लिए अपराधी गिरोहों का सहारा लेते हैं.

नेदरलैंड्स में लोग खुलेआम मारिजुआना या चरस पीते दिख जाते हैं.

भाँग की खेती वाले विधेयक को डी66 नाम की एक उदार विचारधारा वाली पार्टी के सांसद ने पेश किया जो लंबे समय से इस क़ानून में रियायत देने की माँग करता रहा है.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption नीदरलैंड्स में भाँग उगाने और उन्हें कॉफ़ी दूकानों को बेचना ग़ैर-क़ानूनी है

अब ऊपरी सदन में परीक्षा

निचले सदन में विधेयक केवल पाँच वोट के अंतर से पारित हो सका. पक्ष में 77 और विरोध में 72 मत पड़े.

अब इस विधेयक को ऊपरी सदन से मंज़ूरी लेनी होगी जिसके बाद ही ये क़ानून बन पाएगा.

हालाँकि ऊपरी सदन में संख्याबल के हिसाब से विधेयक का पारित होना मुश्किल लग रहा है.

मगर विधेयक के अनिश्चित भविष्य के बावजूद कॉफ़ी दूकानों के प्रतिनिधियों ने इसे एक सकारात्मक क़दम बताते हुए इसका स्वागत किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)