किम पर हमले के लिए 'मिले थे सिर्फ़ 90 डॉलर'

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption सिती आइसिया के मुताबिक़, उन्हें मजाक करने को कहा गया था और 90 डॉलर दिए गए थे.

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के सौतेले भाई किम जोंग नम पर जानलेवा हमला करने के आरोप में गिरफ़्तार महिला का कहना है कि उन्हें इसके लिए सिर्फ़ 90 डॉलर यानी करीब 6 हज़ार रुपए दिए गए थे.

मलेशिया स्थित इंडोनेशियाई दूतावास के अधिकारियों ने सिती आइसिया से शनिवार को राजधानी कुआलालम्पुर में मुलाक़ात की.

'हत्या की संदिग्ध को लगा वो 'प्रैंक' में शामिल हैं

'किम की हत्या उत्तर कोरिया की क्रूरता का संकेत'

'किम जोंग नम की हत्या के पीछे उत्तर कोरिया'

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
हत्या में रासायनिक ज़हर का इस्तेमाल

मुलाक़ात के दौरान उन्होंने कहा कि किम जोंग नम के चेहरे पर 'नवजात शिशु का तेल' पोतने का मज़ाक करने के लिए उन्हें नकद 90 डॉलर दिए गए थे.'

जांच से पता चला है कि बेहद ज़हरीले नर्व एजेंट VX से किम की हत्या की गई थी.

संयुक्त राष्ट्र ने इस नर्व एजेंट को सामूहिक नरसंहार का हथियार घोषित कर रखा है.

उत्तर कोरिया का इनकार

इमेज कॉपीरइट AFP

यह संदेह जताया जा रहा है कि इस हत्या के पीछे उत्तर कोरिया का हाथ है, हालाँकि उत्तर कोरिया ने साफ़ तौर पर इससे इनकार किया है.

इस हत्या में शामिल होने के आरोप में तीन लोगों को गिरफ़्तार किया गया है. इसके अलावा पुलिस सात लोगों की तलाश कर रही है. इनमें उत्तर कोरिया के तीन लोग भी शामिल हैं.

इंडोनेशिया के उप राजदूत अंद्रियानो इर्विन ने कहा, "सिती आईसिया ने कहा कि कुछ लोगों ने उनसे ऐसा करने कहा था. उन्होंने यह भी कहा कि वे लोग देखने में जापानी या कोरियाई लगते थे."

क्या है एजेंट वीएक्स?

इमेज कॉपीरइट SPL
  • यह ज्ञात रसायनिक हथियारों में सबसे घातक है. यह देखने में साफ़, गहरे भूरे रंग का तैलीय पदार्थ होता है. यह रंगहीन और गंधहीन होता है.
  • यह त्वचा के अंदर घुस कर स्नायु तंत्र का काम ठप कर देता है. कम खुराक से आंखों में दर्द, धुंधला दिखना, उल्टी और उनींदा जैसा महसूस होने लगता है.
  • इसका छिड़काव किया जा सकता है, इसकी भाप छोड़ी जा सकती है. इसे हवा, पानी, खाने पीने की चीजों में मिलाया जा सकता है.
  • वीएक्स सांस खींचने, त्वचा के स्पर्श और आंखों से शरीर के अंदर जा सकता है.
  • वीएक्स की भाप कपड़े के साथ आधे घंटे तक रहती है. इस दौरान यह दूसरों को संक्रमित कर सकती है.
  • रसायनिक हथियार कन्वेंशन ने 1993 में इस पर प्रतिबंध लगा दिया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)