चिड़ियाघर में 'प्यारे' हिप्पो का रहस्यमयी क़त्ल!

इमेज कॉपीरइट EPA

एल सालवाडोर के एक राष्ट्रीय चिड़ियाघर में एक चर्चित दरियाई घोड़े की रहस्यमयी परिस्थितियों में मौत हो गई है.

गुस्तावितो नाम के इस दरियाई घोड़े पर सप्ताहांत में एक हमला हुआ था.

पुलिस ये पता लगाने की कोशिश कर रही है कि रात में गुस्तावितो के बाड़े में घुसकर किसने घातक हमला किया.

हमले में घायल हुए 15 वर्षीय गुस्तावितो ने रविवार को दम तोड़ दिया.

अधिकारियों ने इसे चिड़ियाघर के सबसे पसंदीदा जानवर पर कायराना हमला बताया है.

पढ़ें- सबसे लंबी उम्र की मादा गोरिल्ला चल बसी

...और गोरिल्ला ने खींच लिया बच्चे को

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
बूढ़े गोरिल्ला की मौत और पार्क में घड़ियाल

देश में मौजूद बीबीसी संवाददाता विल ग्रांट का कहना है कि भले ही एल सालवाडोर में क़त्ल आम बात हो लेकिन गुस्तावितो के क़त्ल से पूरा देश दुखी है.

अज्ञात हमलावर रात के अंधेरे में गुस्तावितो के बाड़े में घुसे थे और उस पर धारधार हथियारों से कई वार किए.

इमेज कॉपीरइट Reuters

अगली सुबह चिड़ियाघर के कर्मचारियों ने गुस्तावितो को अजीब तरह से व्यवहार करते हुए देखा.

वो पानी से बाहर नहीं निकल पा रहा था. बाद में कर्मचारियों को उसके चेहरे और गर्दन पर घाव दिखाई दिए.

डॉक्टरों ने गुस्तावितो को बचाने की कोशिशें की लेकिन रविवार रात उसकी मौत हो गई.

देश के संस्कृति मंत्रालय का कहना है कि क़ातिलों की पहचान के लिए जांच की जा रही है.

एल सालवाडोर के नागरिक सोशल मीडिया पर अपने दुख और गुस्से का इज़हार कर रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)