इराक: मोसुल में 'पहला रासायनिक हमला'

इमेज कॉपीरइट AFP

ऐसा लगता है कि इराक में इस्लामिक स्टेट के गढ़ मोसुल में संभवत: पहली बार हमले में रासायनिक हथियार का इस्तेमाल किया गया है. इस हमले में कम से कम 12 लोग घायल हुए हैं

इरबिल में मौजूद अंतरराष्ट्रीय रेड क्रॉस के एक डॉक्टर ने बीबीसी से इस घटना की पुष्टि की है.

इस कथित हमले में एक 11 साल का लड़का गंभीर रुप से सांस लेने और त्वचा की बीमारियों से पीड़ित है, साथ ही एक माह का बच्चा भी घायल हो गया.

अब दक्षिण कोरिया को रासायनिक हथियारों का डर!

सीरिया:विद्रोहियों के ठिकानों पर हमले

अंतरराष्ट्रीय रेड क्रॉस के डॉक्टर का कहना है कि हमले में जिस पदार्थ का इस्तेमाल किया गया, उसका पता नहीं चला है, लेकिन उसका इलाज रासायनिक हमले से पीड़ित के रूप में किया जा रहा है.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption सांकेतिक तस्वीर

पीड़ित दो अलग-अलग घटनाओं के हैं, जब पूर्वी मोसुल में मोर्टार ने घरों को निशाना बनाया. पीड़ितों का कहना है कि उन्हें किसी रासायन की गंध महसूस हुई.

रेडक्रॉस के मध्य पूर्व निदेशक रॉबर्ट मारदिनी ने बताया कि पीड़ितों के लक्षण रासायनिक एजेंट के इस्तेमाल के लगते हैं. वो छाले, लाल आँखों , जलन, उल्टी और खाँसी से पीड़ित थे.

उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल प्रतिबंधित है.

इस हमले के लिए कौन ज़िम्मेदार है, अभी तक पता नहीं चला है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)