उत्तर कोरिया के राजूदत को 48 घंटे में मलेशिया छोड़ने का आदेश

मलेशिया का कहना है कि उसने उत्तर कोरिया के राजदूत को देश से निकल जाने को कहा है.

विदेश मंत्रालय का कहना है कि उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन के सौतेले भाई किम जोंग-नम की हत्या पर वहां के राजदूत को देश से निकाला जा रहा है.

किम जोंग नम मर्डर केस: मलेशिया ने उत्तर कोरिया से अपना राजदूत बुलाया

'किम जोंग नम की हत्या के पीछे उत्तर कोरिया'

'किम की हत्या उत्तर कोरिया की क्रूरता का संकेत'

राजदूत कांग चोल से कहा गया है कि वे 48 घंटे के अंदर मलेशिया छोड़ कर चले जाएं.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption क्वालालंपुर हवाई अड्डे पर किम जोंग नम के चेहरे पर जानलेवा रसायन पोत दिया गया

उत्तर कोरिया के राजदूत ने कहा था कि उनका देश इस मामले की जांच को लेकर मलेशिया पर भरोसा नहीं कर सकता. इसके बाद मलेशिया ने यह क़दम उठाया.

मलेशिया की राजधानी क्वालालंपुर के हवाई अड्डे पर दो महिलाओं ने किम जोंग-नम को जहर देकर मार डाला था. जांच से पता चला कि वह जहर नर्व एजेंट वीएक्स था.

कांग इस मुद्दे पर मलेशिया की आलोचना करने में लगे थे. उन्होंने कहा था कि हत्या की जांच का 'राजनीतीकरण' कर दिया गया है और इसमें हस्तक्षेप किया जा रहा है.

मलेशिया के विदेश मंत्री अनीफ़ह अमन ने राजदूत को 'अवांछित व्यक्ति' घोषित कर दिया और कहा कि उनके देश ने उनसे माफ़ी मांगने को कहा, पर राजदूत ने माफ़ी नहीं मांगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)