उत्तर कोरिया ने दागी चार मिसाइलें, तीन जापान में गिरीं

  • 6 मार्च 2017
इमेज कॉपीरइट EPA

उत्तर कोरिया ने जापान सागर की ओर कम से कम चार बैलेस्टिक मिसाइल दागी है. इनमें से तीन मिसाइलें जापान के ख़ास आर्थिक ज़ोन में जाकर गिरी हैं.

इन मिसाइलों ने करीब 1000 किलोमीटर की दूरी तय की. जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने इसे नया ख़तरा बताया है.

इससे पहले दक्षिण कोरिया ने कहा था कि उत्तर कोरिया की ओर से छोड़ी गई मिसाइल जापान सागर में जाकर गिरी है.

दक्षिण कोरियाई सेना के मुताबिक़ इस अज्ञात मिसाइल का परीक्षण सोमवार को उत्तर कोरिया की चीन की सीमा से लगते टॉन्गचेंग-री इलाक़े के पास से किया गया.

उत्तर कोरिया के 'एटम बम' में कितना दम?

उत्तर कोरिया का मिसाइल टेस्ट: जापान को अमरीकी समर्थन का भरोसा

उत्तर कोरिया ने पिछले महीने एक नई तरह की बैलेस्टिक मिसाइल के परीक्षण का दावा किया था. उसका कहना था कि परीक्षण देश के नेता किम जोंग उन की मौजूदगी में किया गया.

संयुक्त राष्ट्र ने उत्तर कोरिया के मिसाइल या परमाणु परीक्षण करने पर पाबंदी लगा रखी है.

फ़रवरी में किए गए परीक्षण की संयुक्त राष्ट्र, अमरीका, जापान और दक्षिण कोरिया ने निंदा की थी.

इमेज कॉपीरइट Reuters

दक्षिण कोरियाई सेना के एक अधिकारी ने कहा कि उत्तर कोरिया ने स्थानीय समयानुसार सोमवार सुबह 7.36 पर यह परीक्षण किया. अधिकारी का कहना था कि परीक्षण कैसा था इसका पता लगाया जा रहा है.

टॉन्गचेंग-री में सोहे सैटेलाइट लांचिंग स्टेशन है. हाल के समय से यहां की गतिविधियां जापान के लिए चिंता का विषय बन गई हैं.

उत्तर कोरिया बार-बार कहता रहा है कि उसका अंतरिक्ष कार्यक्रम शांति के लिए है. लेकिन यह माना जाता है कि वह अमरीका पर हमला करने में सक्षम इंटरकांटिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल का निर्माण कर रहा है.

यह भी माना जाता है कि वह मिसाइल में इस्तेमाल होने लायक परमाणु हथियार बना रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)